Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू: पांकी के कुसड़ी हत्याकांड में पति, भैसुर और गोतनी गिरफ्तार

Palamu: पलामू जिले के पांकी थाना क्षेत्र के कुसड़ी में गत 27 जून को हुए आशा देवी हत्याकांड का पुलिस ने उद्भेदन कर लिया है. इस सिलसिले में महिला के पति कुसड़ी निवासी सोहराई सिंह, भैसुर बाबूराम सिंह एवं गोतनी सबीता देवी को गिरफ्तार किया गया है. तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

पांकी के थाना प्रभारी जे.के रमण ने बताया कि 27 जून को आशा देवी की लाठी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी थी और शव को आत्महत्या का रूप देने के उद्देश्य से फांसी पर लटका दिया गया था. घटना के समय मृतका का पति सोहराई सिंह घर पर नहीं था. जब पति घर पहुंचा तो आशा देवी को फांसी से लटकता पाया. उसके पश्चात उसने शोर मचाना शुरू किया, जिससे अगल बगल के लोगों ने वहां आकर शव को फांसी के फंदे से उतारा.

इसे भी पढ़ें – रामगढ़ : सड़क किनारे सब्जी बेचने को मजबूर है झारखंड की पूर्व खिलाड़ी गीता कुमारी

ram janam hospital
Catalyst IAS

मामले को सलटाने की थी तैयारी

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसके बाद मामले को सलटाने को लेकर गोपनीय बैठक हुई. बैठक में तत्काल शव को जलाने पर सहमति बनी. इसी बीच किसी ने घटना की सूचना मृतका के मायकेवालों व पांकी पुलिस को दी. सूचना मिलते ही पांकी पुलिस घटनास्थल पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए मेदिनीनगर पीएमसीएच भेज दिया.

इसे भी पढ़ें –पिता राजेंद्र सिंह के निधन के बाद कुमार जयमंगल बने राष्ट्रीय मजदूर कोलियरी संघ के अध्यक्ष 

लंबे समय से दोनों भाइयों में चल रहा था विवाद

सोहराई सिंह के बड़े भाई हुसैनी सिंह व बाबूराम सिंह के साथ उसका लंबे समय से आपसी विवाद चल रहा था. आशा देवी को घर में अकेले पाकर उक्त लोगों ने पीट-पीट कर हत्या कर दी और शव को फांसी पर लटका दिया. थाना प्रभारी ने कहा कि मामले पर पर्दा डालने के आरोप में मृतका के पति को अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ें –Corona Updates: RIMS में दो नये संक्रमित मिले, झारखंड में हुए 2432 केस

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button