Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू: पशु तस्करी के लिए पिकअप की चोरी, आठ घंटे के भीतर सरगना समेत दो गिरफ्तार

Palamu: पलामू जिले में इन दिनों पशु तस्करी के लिए वाहनों की चोरी की जा रही है. ताजा मामला मेदिनीनगर सदर थाना क्षेत्र से जुड़ा है. गत 1 जुलाई को धर्मटोला- चियांकी से पशु तस्करी के लिए एक पिकअप (JH03Q4490) की चोरी कर ली गई. हालांकि सूचना मिलते ही पुलिस रेस हुई और आठ घंटे के भीतर गुमला जिले में कार्रवाई कर जंगल में छुपाए गए पिकअप को बरामद कर लिया. इस सिलसिले में पुलिस ने इंटरस्टेट गिरोह के सरगना समेत दो को गिरफ्तार किया है.

सदर थाना प्रभारी कमलेश कुमार ने शनिवार को बताया कि 1 जुलाई को मुकेश कुमार साव ने जानकारी दी कि धर्मटोला-चियांकी उसके घर के बाहर लगी पिकअप वैन गायब है. काफी छानबीन करने पर भी पता नहीं चल सका. इस संबंध में मामला दर्ज किया गया. अनुसंधान के क्रम में पता चला कि उक्त गाड़ी को चोरों द्वारा गुमला की तरफ ले जाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें:बक्सर में महंगे पेट्रोल से तंग युवक ने अपनी बाइक में खुद लगाई आग, कहा-रोज की समस्या अब खत्म

Catalyst IAS
ram janam hospital

पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में टीम बनाई गई और गुमला के संबंधित थाने को सूचना दी गई. गठित टीम यहाँ से गुमला के रायडीह थाना पहुंची और वहाँ के गुप्तचरों से सम्पर्क किया. पता चला कि यह काम छतीसगढ के जसपुर जिले के लौदांग टांगरटोली के अंतर्राजीय वाहन चोर गिरोह का है. यह गिरोह झारखंड एवं छतीसगढ़ में इस तरह के कई कांडों को अंजाम दे चुका है.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

ये लोग पहले कही से वाहन चोरी करके दो-तीन दिन गुमला के सुरसांग थाना क्षेत्र के आस पास के जंगलों में छिपा देते हैं. उसके बाद गाड़ी को मोडीफाई करके उसे मवेशी तस्करों को बेच देते हैं. बाद में इन वाहनों से अवैध पशु तस्करी का धंधा किया जाता है.

इसे भी पढ़ें:बिहार : जहरीली शराब पीने से हुई थी 16 लोगों की मौत, तीन पुलिस कर्मियों पर करवाई, 10 साल तक नहीं बन पाएंगे थानाध्यक्ष

मामले में सुरसांग के महुआटोली जंगल में पहुंचकर छानबीन की गई. देखा गया कि एक सफेद रंग की पिकअप जंगल के बीच में खड़ी है. वहाँ पर दो व्यक्ति उस गाडी से बैट्री एवं नम्बर प्लेट खोलने का प्रयास कर रहे थे.

पुलिस को अपनी ओर आता देख दोनों भागने लगे, जिसे दौड़ाकर पकड़ा गया. उनकी पहचान जहांगीर साह उर्फ पाकु (उम्र 27) एवं शहनवाज शाह (उम्र 20) के रूप में हुई. दोनों छतीसगढ के जसपुर जिले के लौदांग टांगरटोली के रहने वाले हैं. जहांगीर शाह इससे पूर्व में भी कई बार जेल जा चुका है एवं इस पूरे गिरोह का मास्टर माइंड है. चोरी गई पिकअप को बरामद किया गया.

छापामारी दल में थाना प्रभारी कमलेश कुमार, स.अ.नि. समाल अहमद, आरक्षी छोटन राम, देवेन्द्र कुमार रजक, अमित उपाध्याय एवं चालक अर्जुन राम शामिल थे.

इसे भी पढ़ें:यूपी पुलिस चुपके से सिवान से तीन युवकों को उठा ले गयी, मर्डर की वारदात में गिरफ्तारी की बात कह रहे एसपी

Related Articles

Back to top button