न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : सड़कों पर दिखा पारा शिक्षकों का आक्रोश, थम गयी शहर की रफ्तार

70

Palamu : स्थायीकरण की मांग को लेकर पारा शिक्षक पिछले एक माह से आंदोलन पर हैं. गुरुवार को पारा शिक्षकों ने न्याय यात्रा के तहत जनाक्रोश रैली निकाली. जिले के सभी प्रखंडों से हजारों पारा शिक्षकों के आने से शहर की रफ्तार थम गयी. रैली वाली सड़क पर जाम लगा रहा और हर तरफ आंदोलनकारी पारा शिक्षक ही नजर आए.

जमकर लगे रघुवर दास विरोधी नारे

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले निकाली गयी. रैली में राज्य की रघुवर दास सरकार पर जमकर हमला बोला. महिला-पुरूष पारा शिक्षकों ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए नजर आए. रैली स्थानीय शिवाजी मैदान से निकली. मैदान पारा शिक्षकों के साथ-साथ विद्यालय प्रबंध समिति और संयोजिका से खचाखच भरा पड़ा था

शहर में किया गया मार्च

शिवाजी मैदान से रैली निकालकर पारा शिक्षक सड़कों पर आ गए और मार्च किया. रैली मैदान से निकलकर सद्वीक चौक, समाहरणालय परिसर, साहित्य समाज चौक, छहमुहान, प्रधान डाकघर होते पुनः शिवाजी मैदान आकर संपन्न हो गयी. इस दौरान स्थायीकरण के साथ सामान्य काम के बदले सामान्य वेतन की व्यवस्था को लागू करने की मांग की गयी.

रैली में इनका रहा समर्थन

रैली में पलामू मुखिया संघ, रसोइया संघ, जिप सदस्य नंद कुमार पासवान, परमदेव सिंह, विद्यालय प्रबंध समिति सहित कई अन्य संगठनों का समर्थन दिखा. रैली से पूर्व शिवाजी मैदान में सभा की गयी. कार्यक्रम की अध्यक्षता मोर्चा के जिला अध्यक्ष संतोष सिंह ने की. मुख्य अतिथि के रूप में संगठन के ऋषिकेश पाठक और दशरथ ठाकुर व सिंटू सिंह थे.

सभा में मिथिलेश उपाध्याय, मनोज सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी, मिशन टीम के रंजीत जायसवाल, प्रदुम्न कुमार सिंह, राजेश नंदन सिंह, विकास सिंह, महेश मेहता, राजीव शुक्ला ने भी अपने विचार व्यक्त किए.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: