JharkhandPalamu

पलामू: पुराना विद्यालय भवन जर्जर, बनने के चार वर्ष में ही नये भवन की दीवारों पर पड़ी दरारें

Palamu: राज्य में हर दिन नये-नये विद्यालय भवन बनाये जा रहे हैं, लेकिन उनकी गुणवता कैसी है, इसे देखनेवाला कोई नहीं है? नतीजा भवन भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जा रहे हैं. पलामू जिले में कुछ इसी तरह की स्थिति बनी हुई है. यहां चार वर्ष पूर्व 64 लाख की लागत से बना उच्च विद्यालय का एक भवन बनने के बाद ही जर्जर हो गया. दीवारों पर दरारें पड़ गयी हैं. हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है.

लेस्लीगंज प्रखंड के कुंदरी परियोजना रामकेश्वर उच्च विद्यालय का नया भवन महज पांच वर्षों में ही जर्जर स्थिति में पहुंचने लगा है. लगभग 64 लाख की लागत से बनाये गये विद्यालय भवन की दीवारों पर दरारें पड़ गयी हैं. वहीं कई जगह छत से पानी भी टपकता है. नये भवन की जर्जर हालत से विद्यालय में पढ़नेवाले लगभग 400 छात्र-छात्राएं हमेशा किसी अनहोनी के भय में रहते हैं.

इसे भी पढ़ें – खूंटी के कोचांग में सामूहिक दुष्कर्म मामले में फादर अल्फांसो दोषी करार, कोर्ट से ही भेजा गया जेल

advt

पुराना भवन जर्जर होने पर नया बना, लेकिन चढ़ गया भ्रष्टाचार की भेंट 

पुराना भवन जर्जर होने पर उसके बगल में नया भवन बनाया गया. लेकिन निर्माण कार्य में गुणवता का ध्यान नहीं रहने के कारण कुछ वर्षों के भीतर ही इसकी स्थिति खराब हो गयी. हैरत तो यह है कि सबकुछ जानते हुए विभागीय पदाधिकारी लापरवाह बने हुए हैं. विद्यालय की प्रधानाध्यापक अवन्ती देवी ने बताया कि पिछले कई वर्षों से विद्यालय का पुराना भवन जर्जर है. इसकी हालत ज्यादा खराब है. छत का प्लास्टर टूट कर गिर रहा है. दीवारें भी टूट कर गिरने लगीं हैं. इसे देखते हुए वर्ष 2014 में विद्यालय का नया भवन बनाया गया है, लेकिन इसकी गुणवता भी ठीक नहीं है. दीवारों पर दरारें पड़ गयी हैं. इससे हमेशा किसी दुर्घटना की आशंका बनी रहती है.

इसे भी पढ़ें – भारत नहीं तो क्या पाकिस्तान में लिया जाएगा भगवान राम का नाम : शाह

35 वर्ष पहले स्थापित हुआ था विद्यालय

गौरतलब हो कि कुंदरी परियोजना रामकेश्वर उच्च विद्यालय का निर्माण वर्ष 1986 में कराया गया था. पिछले 35 वर्ष से इस विद्यालय की ख्याति पूरे प्रखंड क्षेत्र में है. यहां से हर वर्ष बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं मैट्रिक की परीक्षा पास करके निकलते हैं, जबकि उसी अनुपात में बच्चों का नामांकन भी होता है.

इसे भी पढ़ें – जेडीयू प्रवक्ता ने ‘शूर्पणखा’ से की मीसा की तुलना, आरजेडी का पलटवार

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: