JharkhandPalamu

पलामू : बिहार बॉर्डर पर अधेड़ की गला रेतकर हत्या, छठ पूजा का सामान लेने निकला था घर से

Palamu : बिहार सीमा से सटे पलामू जिले के हरिहरगंज थाना क्षेत्र में एक अधेड़ की गला रेतकर हत्या कर दी गई. उसका शव खून से लथपथ बुधवार की सुबह बरामद किया गया. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए मेदनी राय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भेज दिया है.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह में पति-पत्नी ने कुएं में कूदकर दी जान, आपसी विवाद बना कारण

जानकारी के अनुसार अधेड़ की पहचान सुरेंद्र पासवान के रूप में हुई है. वह बिहार के औरंगाबाद जिले के कुटुंबा थाना क्षेत्र के महाराजगंज का निवासी था. परिजनों के अनुसार मंगलवार की दोपहर वह छठ पूजा की सामग्री खरीदने के लिए घर से निकला था, लेकिन वापस घर नहीं लौटा. सुरेंद्र पासवान का शव उसके घर से तीन सौ मीटर दूर झारखंड सीमा में हरिहरगंज थाना क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के पीछे और सोहेल आलम के घर के समीप शौचालय के लिए खोदे गए गड्ढे से बरामद किया गया. सुरेंद्र पासवान के शव के पास उसका गमछा पड़ा था. खून जहां-तहां बिखरे पड़े थे और ईख (गन्ना) का भी रखा हुआ था.

Sanjeevani

स्थानीय लोगों ने सबसे पहले देखा शव

सुरेंद्र पासवान का शव स्थानीय लोगों ने सबसे पहले देखा. इसकी सूचना मिलते ही आसपास लोगों की भीड़ जमा हो गई. बाद में पुलिस भी मौके पर पहुंची. इधर सुरेंद्र की तलाश कर रहे उसके परिजन भी मौके पर पहुंच गए. बाद में शव की पहचान की गई. सुरेंद्र पासवान पल्लेदारी का कार्य करता था. वह हरिहरगंज बाजार में पल्लेदारी करता था.उसकी हत्या क्यों की गई, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है. इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी सुदामा कुमार दास ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. गहनता से जांच की जा रही है. जल्द खुलासा कर दिया जाएगा.

घर में बेटी और दामाद कर रहे थे छठ

जानकारी के अनुसार सुरेंद्र पासवान के घर छठ पूजा हो रही थी. उसकी शादीशुदा तीन बेटियां और दामाद छठ पूजा के लिए आए थे. सुरेंद्र पासवान को पांच लड़की और दो लड़का है. मंगलवार को घर में उसकी पत्नी नहीं थी, अपने मायके किसी काम से गई थी. सूचना मिलने पर उसकी पत्नी घर वापस आ गई है. हत्या के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. सुरेंद्र पासवान की बड़ी लड़की सुनीता देवी ने बताया कि उसकी तीन बहन और बहनोई छठ पूजा किए थे. पिता की हत्या के बाद सारे लोग सदमे में हैं. छठ की पूजा मातम में बदल गई है. परिजनों ने पुलिस प्रशासन से जल्द मामले का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की है.

इसे भी पढ़ें : कोडरमा में लूटपाट करने वाले गिरोह का भंडाफोड़, चार अपराधी गिरफ्तार

 

Related Articles

Back to top button