JharkhandPalamu

Palamu : महज 18 डिसमिल जमीन के विवाद में चली गयी दो पक्षों के चार लोगों की जान, शोक में डूबा है गांव

Palamu : पलामू जिले में जमीन विवाद के कारण हमेशा हिंसक घटनाएं हुई हैं. ताजा मामला जिले के लेस्लीगंज थाना क्षेत्र से अधमनिया का है. यहां उरांव और सिंह परिवार महज 18 डिसमिल के तीन छोटे खेत के लिए आपस में भिड़ गये, जिसमें अब तक चार लोगों की जान चली गयी है. कई जख्मी हैं और उनका इलाज चल रहा है. गांव में पुलिस कैंप कर रही है और स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए प्रयास कर रही है.

विदित हो कि मंगलवार को विवादित जमीन पर ट्रैक्टर से जुताई कर रही कलावती कुंवर और उसके दो बेटे विनोद और संजय उरांव के साथ जमीन पर दावा कर रहे दूसरे पक्ष के रायबहादुर सिंह से उनका विवाद हुआ था. विवाद की शुरुआत यहीं से हुई और देखते-देखते दोनों पक्षों से चार जिंदगियां चली गयीं. इससे गांव के लोग गमगीन हैं.

इसे भी पढ़ें – राज्य सूचना आयुक्त का पद खाली, छह हजार से ज्यादा अपील पेंडिंग

advt

पोस्टमार्टम के बाद तीन शव दफनाये गये

बुधवार को कलावती कुंवर और उसके बेटे के शव का पोस्टमार्टम के बाद दाह संस्कार किया गया. अधमनिया में ही तीनों को ईसाई धर्म के अनुसार दफनाया गया. दोपहर बाद दूसरे पक्ष के रायबहादुर सिंह का शव गांव में पहुंचने की सूचना थी. विवाद में पहले रायबहादुर सिंह गंभीर हो गये थे. उन्हें इलाज के लिए रांची के मेडिका में भर्ती कराया गया था, जहां मंगलवार की रात में उनका निधन हो गया.

लेस्लीगंज थाना में दर्ज हुआ हत्या का मामला

मृतक कलावती देवी के तीसरे बेटे के फर्द बयान के आधार पर रायबहादुर सिंह के बेटे नितेश के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गयी है, जबकि रायबहादुर की मौत मामले में पलामू पुलिस ने रांची पुलिस से संपर्क किया है. रांची में उसका फर्द बयान लेने और गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है.

गांव में किसी से नहीं पटती थी कलावती की

ग्रामीण ललन पासवान, सकेन्द्र भुइयां और नंदकिशोर राम ने कहा कि कुछ वर्ष पहले कलावती कुंवर ने ईसाई धर्म अपना लिया था. दबंगई दिखा कर मृगा उरांव, राजेन्द्र एवं नारायण उरांव की जमीन पर कब्जा कर लिया था. लड़ाकू प्रवृति के होने के कारण उसकी किसी से नहीं बनती थी.

इसे भी पढ़ें – गोपालजी तिवारी मामले में एसीबी ने अधिवक्ता राजीव कुमार का बयान दर्ज किया

adv

पुलिस जुटी है छानबीन में

गांव में लेस्लीगंज के एसडीपीओ अनुप बड़ाईक, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी प्रमोद रंजन के साथ सतबरवा थाना प्रभारी रूपेश कुमार दुबे के साथ दल-बल के साथ मामले की छानबीन की. हालांकि पुलिस अभी तक किसी निष्कर्ष पर पहुंच नहीं पायी है.

विवाद का क्या है कारण? 

अधमनिया गांव के रायबहादुर सिंह और कलावती कुंवर के बीच 18 डिसमिल की जमीन का विवाद लंबे समय से चल रहा था. मंगलवार को कलावती कुंवर ट्रैक्टर से विवादित जमीन की जुताई करा रही थी. जब रायबहादुर सिंह ने देखा तो दरवाजे से चालक को डांट डपट किया और भगा दिया था. इससे कलावती कुंवर और उसके बेटे आगबबूला हो गये. अन्य लोगों के साथ मिल कर उसके घर में घुस आये और रायबहादुर और उसके परिवार के लोगों की जम कर पिटाई की. टांगी से वार किया. इस घटना में रायबहादुर की मां सोना देवी का हाथ टूट गया, जबकि फुआ समुद्री देवी और बहू राधा देवी को गंभीर चोटें आयीं.

रायबहादुर के परिजनों ने तत्काल उसे इलाज के भेजा, जबकि घटना की जानकारी उसके बेटों को दी. रायबहादुर के बेटे बोलेरो से अधमनिया जा रहे थे, जबकि कलावती और उसके दो बेटे बाइक से थाना जा रहे थे. इसी क्रम में अधमनिया टोला से कुछ दूरी पर बोलेरो ने बाइक को जोरदार टक्कर मार दी. इस घटना में संजय और विनोद की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि कलावती ने तुम्बागाड़ा हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया.

इसे भी पढ़ें – तीन दिन होगी JBVNL की नयी बिजली टैरिफ पर वर्चुअल जनसुनवाई, आयोग ने तय की तारीख

advt
Advertisement

7 Comments

  1. Wonderful site. Plenty of helpful info here. I’m sending it to several buddies ans also sharing in delicious.
    And certainly, thanks to your sweat!

  2. hello!,I like your writing very a lot! share we communicate
    more approximately your article on AOL? I require a specialist in this house to resolve my problem.
    Maybe that is you! Having a look forward to see you. 2CSYEon cheap flights

  3. Hello my friend! I want to say that this article
    is amazing, great written and come with approximately all important infos.

    I’d like to peer more posts like this .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button