NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: सूर्य मंदिर की बगल में लगता है शराबियों का जमावड़ा, पुलिस-उत्पाद विभाग बेखबर

उत्पाद विभाग और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में हर दिन शराब की भट्ठी और अड्डे ध्वस्त किए जा रहे हैं.

132

 Daltonganj : उत्पाद विभाग और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में हर दिन शराब की भट्ठी और अड्डे ध्वस्त किए जा रहे हैं. चुलाई, अंग्रेजी शराब बरामद और जावा महुआ नष्ट की जा रही है, लेकिन पलामू जिले के हुसैनाबाद थाना अंतर्गत और बिहार की सीमा पर स्थित दंगवार सूर्य मंदिर की बगल में सोन नदी तट पर खुलेआम शराब बेचने का धंधा फल फूल रहा है.

हुसैनाबाद थाना से 10 किमी दूर झारखंड-बिहार की सीमा पर स्थित दंगवार सूर्य मंदिर की बगल में स्थित सोन नदी के तट पर दोपहर बाद तीन बजे से देर रात व सुबह पांच बजे से 10 बजे तक शराब पीने वालों का जमावड़ा लग जाता है. सोन नदी को पार कर बिहार के औरंगाबाद जिले के कोईरीडीह व नबीनगर क्षेत्र के लोग शराब का सेवन करने के लिए आते हैं.

इसे भी पढ़ें-लोकसभा चुनाव से पहले कई बीजेपी दिग्गजों की गिरिडीह लोकसभा सीट पर है नजर !

यहां शराब दुकान नहीं, लेकिन फरमाइश पर मिलती है पाउच शराब

यहां कोई सरकारी शराब की दुकान नहीं है. किंतु शराब माफिया द्वारा महुआ द्वारा बनायी गयी शराब के साथ-साथ शराबियों के लिए पाउच शराब की भी पूर्ति फरमाइश पर की जाती है. महंगे दाम पर शराब बेचकर माफिया माला-माल हो रहे हैं.

 
इसे भी पढ़ें-धनबाद नगर निगम का कारनामा : 42 हजार शौचालयाें में छह हजार का पता नहीं

दंगवार पिकेट पुलिस बनी अनभिज्ञ

दंगवार में जिस जगह पर शराब बिकती है, वहां से कुछ ही दूरी पर शराब का धंधा चलता है, लेकिन पुलिस को इसकी तनिक भी खबर नहीं लगती. शराबियों के जमावड़े के कारण स्थानीय लोग विरोध नहीं कर पाते. शराब बेचने वालों के आपराधिक प्रवृति के रहने के कारण ग्रामीण डरे-सहमे रहते हैं. हालांकि कुछ ग्रामीणों ने साहस दिखाकर वहां की तस्वीर कैमरे में कैद की और हमारे संवाददाता को भेज कर पूरी जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें-लोकसभा चुनाव से पहले कोयलांचल बीजेपी में हंगामा क्यों है बरपा

madhuranjan_add

सूर्य मंदिर आने में होती है परेशानी

ग्रामीणों ने कहा कि दंगवार सोन नदी के तट पर प्राचीन सूर्य मंदिर के साथ-साथ शिव मंदिर भी स्थापित है. जहां प्रतिदिन दंगवार की  महिलाएं पूजा अर्चना करने पहुंचती हैं. शराबियों के कारण मंदिर आने-जाने में भारी परेशानी होती है. ग्रामीणों ने यह भी कहा है कि पुलिस के नाक के नीचे इतना बड़ा शराब का धंधा चल रहा है. इसके बावजूद भी पुलिस मौन साध कर बैठी है.

इसे भी पढ़ें- मसानजोर डैम विवाद : सरयू राय ने सीएम को लिखा पत्र, कहा- समाधान दुमका और वीरभूम स्तर पर संभव नहीं

छापामारी की गयी, लेकिन कारोबारी और शराबी भाग निकलेः ओपी प्रभारी

दंगवार ओपी प्रभारी महेंद्र चौधरी ने बताया कि रविवार को छापामारी की गयी, किंतु सभी कारोबारी और शराबी भाग निकले. उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर से लगभग 500 गज की दूरी पर अवैध शराब की बिक्री की सूचना मिली थी. इसके बाद त्वरित कार्रवाई की गयी है. उन्होंने कहा कि अब शराबियों को उक्त स्थान पर शराब पीने के लिए खैर नहीं रहेगी. उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जायेगा.

इस संबंध में एसडीपीओ मनोज कुमार महतो ने कहा कि छापामारी के लिए दंगवार ओपी प्रभारी को निर्देशित किया गया है. पुलिस जब भी उक्त स्थान छापमारी करती है तो शराब पीने वाले व बेचने वाले सोन नदी में छलांग लगा देते हैं, जिससे पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाती है. उन्होंने कहा कि उक्त स्थान पर पुलिस की पैनी नजर है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: