न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अवैध रूप से चल रहे सात क्रशर सील, टास्क फोर्स के आने की सूचना हो गयी लीक

42

Palamu : पलामू जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र में अवैध रूप से संचालित हो रहे सात अवैध क्रशरों को शुक्रवार को सील करने की कार्रवाई की गयी. मेदिनीनगर अनुमंडलस्तरीय खनन टास्क फोर्स की टीम ने चैनपुर के अलग-अलग इलाकों में पहुंचकर सारे क्रशरों को सील किया. सारे क्रशर नियम विरूद्ध चल रहे थे. कार्रवाई से क्रशर संचालकों में हड़कंप मच गया है.

इन क्रशरों को किया गया सील

एसडीओ ने बताया कि चैनपुर के सलतुआ और सेमरा इलाके में अवैध रूप से चल रहे महादेव स्टोन चिप्स, भवानी स्टोन, संतोष स्टोन, मां काली स्टोन, न्यू सत्यम मिनरल्स, मां इंटरप्राइजेज और सिंह स्टोन को सील कर कार्रवाई शुरू की गयी है. उन्होंने कहा कि किसी कीमत पर पत्थरों का अवैध धंधा संचालित नहीं होने दिया जायेगा. सभी क्रशर लंबे समय से संचालित थे.

hosp1

टास्क फोर्स के आने की सूचना हो गयी लीक

अतिविश्वस्त सूत्रों का कहना है कि खनन टास्क फोर्स टीम की कार्रवाई की सूचना लीक हो गयी थी. टीम के सदस्य जब क्रशरों पर पहुंचे तो वहां सन्नाटा पसरा था. ना तो मजदूर काम कर रहे थे और ना ही क्रशर के कर्ता धर्ता ही मौके पर मौजूद थे. किसी के नहीं मिलने पर सील करने की कार्रवाई की गयी. बाद में जानकारी इक्ट्ठा कर संबंधित क्रशरों संचालकों को चिन्हित किया गया.

जंगल की आड़ में चल रहे थे सारे क्रशर

जंगलों से अच्छादित इलाके में सारे क्रशर चल रहे थे. क्रशरों पर मिले पत्थर भी वन क्षेत्र से तोड़कर लाए गए थे. एक इलाके में सात से आठ क्रशरों के चलने से बड़े पैमाने पर वन संपदा का दोहन हो रहा था. हालांकि इन क्रशरों पर की गयी कार्रवाई कितना असरदार रहेगी, यह देखने वाली बात होगी? पूर्व में की गयी कार्रवाई का पत्थर माफियाओं पर असर नहीं देखा गया है. कुछ दिनों तक मामला गर्म रहने पर सबकुछ ठीक ठाक रहता है, लेकिन जैसे ही पदाधिकारियों द्वारा इसमें ढील दी जाती है, पत्थर माफिया पुनः अपने सम्राज्य को खड़ा कर लेते हैं.

टीम में कौन-कौन?

टीम का नेतृत्व सदर एसडीओ एनके गुप्ता कर रहे थे. उनके साथ खनन पदाधिकारी मनोज टोप्पो, डीएसपी सुरजीत कुमार, चैनपुर सीओ, इंस्पेक्टर, थाना प्रभारी, लेबर इंस्पेक्टर और इंडस्ट्रीयल डिपार्टमेंट के पदाधिकारी साथ में थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: