JharkhandPalamu

Palamu : छठ घाट पर गंदगी देख सफाई जमादार को उपायुक्त ने लगायी फटकार, मैरिन ड्राइव के अधूरे हिस्से की घेराबंदी का निर्देश

Palamu : दीवाली व छठ पूजा को लेकर प्रशासन पूरी तरह सक्रिय हो गया है. इसके तहत जिले के आला अधिकारियों ने शहर के विभन्न छठ घाटों को दौरा शुरू कर दिया है. छठ व्रतियों को अर्घ्य देने में कोई भी असुविधा न हो इसके लिए उपायुक्त शशि रंजन ने बुधवार को विभिन्न छठ घाटों का निरीक्षण किया. निरीक्षण के क्रम में उन्होंने छठ घाटों पर सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ स्वच्छता का भी जायजा लिया.

इसे भी पढ़ें:कहानियां झारखंड आंदोलन की-4 : अलग राज्य की मांग को लेकर जब 14 दिनों का अनशन हुआ था

गिरिवर स्कूल के सामने घाट की घेराबंदी का निर्देश

उपायुक्त सबसे पहले गिरिवर स्कूल के समीप छठ घाट पर पहुंचे और वहां मैरिन ड्राइव के निर्माण का जायजा लिया. साथ ही संवेदक और अभियंता को निर्देश दिया कि निर्माण स्थल के आसपास घेराबंदी की जाये. साथ ही यहां पड़ी निर्माण सामग्री को अविलंब हटाया जाये और भीड़ की स्थिति को देखते हुए खतरेवाले हिस्से को देख कर उसे सील करने की कार्रवाई की जाये.
उपायुक्त ने टाउन हॉल के समीप छठ घाट, बेलवाटिकर पंपुकल के पास मौजूद छठ घाट सहित अन्य छठ घाटों का निरीक्षण किया.

पंपूकल में सद्भावना घाट का जायजा लेने के दौरान उपायुक्त को वहां कचरा डंप मिला. मौके पर मौजूद सफाई जमादार ने बताया कि यहां से हर दिन कचरा उठता है, लेकिन उपायुक्त ने कचरे की स्थिति देख कर कहा कि नियमित सफाई होती तो कचरा का ढेर ज्यादा नहीं रहता. उन्होंने फटकार लगाते हुए सफाई जमादार को अविलंब सफाई कराने का निर्देश दिया.

advt

इसे भी पढ़ें:सरना आदिवासी धर्मकोड प्रस्ताव पारित होने की खुशी में आदिवासी संगठनों ने मनाया जश्न

ज्यादा पानीवाली जगहों पर बैरिकेडिंग करने का निर्देश

नदी में जिन घाटों पर पानी ज्यादा है उपायुक्त ने वहां सुरक्षा के लिए बैरिकेडिंग करवाने का निर्देश दिया. इसके अलावा उन्होंने बेलवाटिकर पम्पुकल के पास स्थित छठ घाट पर लोगों के आवागमन के लिए एक अस्थायी रास्ता बनाने का निर्देश दिया.

प्रभारी नगर आयुक्त-सह-नजारत उप समाहर्ता शैलेश कुमार सिंह ने बताया कि इस वर्ष छठ का पहला अर्ध्य 20 नवंबर तथा दूसरा 21 नवंबर को होना है. आस्था के महापर्व में जिले वासियों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इसके लिए जिला प्रशासन तथा नगर निगम तत्परता से लगे हुए हैं.

निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त के साथ अपर समाहर्ता सुरजीत कुमार सिंह, प्रभारी नगर आयुक्त- सह-नजारत उप समाहर्ता शैलेश कुमार सिंह, सदर अनुमंडल पदाधिकारी अजय सिंह बड़ाइक सहित कई नगर निगम के कर्मी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें:विधानसभा सत्र के पहले तक थी आंदोलन की तैयारी, सरना आदिवासी धर्मकोड प्रस्ताव पारित होने के बाद सरना संगठनों ने मनाया जश्न

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: