न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Palamu: हल्की बारिश से कीचड़ से तब्दील हुई 97 लाख से तैयार की गयी सड़क, पैदल चलना मुश्किल

633

Palamu: पलामू जिले के हुसैनाबाद नगर पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर दो में 97 लाख की लागत से बनी एक सड़क हल्की बारिश में ही कीचड़ में तब्दील हो गयी है.

वार्ड दो के सैदाबाद-स्टेशन रोड मुख्य पथ का निर्माण कार्य हुए महीने दिन नहीं हुए है, लेकिन तीन दिन के बारिश में सड़क की हालत नारकीय हो गया है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इस सड़क पर वाहन तो चलना खतरों से खाली नहीं है, साथ ही पैदल चलना भी दुर्घटना को बुलावा देने जैसा हो गया है.

इसे भी पढ़ें : #JSLPS की नियुक्ति प्रक्रिया में नहीं है पारदर्शिता, मनमाने तरीके से होती है नियुक्ति

एके सिंह कॉलेज जाने का है सरल रास्ता

यह सड़क हुसैनाबाद के शहीद भगत सिंह कॉलेज जाने का सरल रास्ता है. प्रतिदिन उस सड़क से सैकड़ों की संख्या में जपला रेलवे स्टेशन से उतरकर छात्र-छात्राएं एके सिंह कालेज आते-जाते हैं.

लेकिन सड़क की दुर्दशा के कारण लोग उक्त सड़क पर चलना मुनासिब नहीं समझ रहे हैं. सड़क की स्थिति ठीक करने में संवेदक की भी कोई दिलचस्पी नहीं है.

97 लाख की लागत से बनी है सड़क

इस पीसीसी पथ का विगत माह में 97 लाख की प्राक्कलन राशि से निर्माण हुआ था. सड़क निर्माण के बाद किनारे दोनों ओर मिट्टी की भरावट की गयी थी, लेकिन संवेदक की लापरवाही के कारण मिट्टी सड़क किनारे के साथ-साथ मुख्य पथ पर भी अधिक मात्रा में गिरा कर रखी गयी थी.

Related Posts
Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इससे तीन दिनों के हल्की बरसात में ही सड़क का हाल खस्ताहाल हो गया. पीसीसी पथ पर कीचड़नुमा मिट्टी होने के कारण लोगों का पैदल चलना मुश्किल हो गया है. मिट्टी की परत जम जाने से इस सड़क की हालत ग्रामीण सड़क से भी बदतर हो गयी है.

इसे भी पढ़ें : #Internet के अभाव में धूल फांक रहा रांची यूनिवर्सिटी का इन्फॉर्मेशन व नॉलेज ई-सेंटर

पार्षद और ग्रामीणों ने दी आन्दोलन की चेतावनी   

इस संबंध में वार्ड दो की पार्षद सोनी देवी के अलावा ग्रामीण रवि कुमार गुप्ता, सुदर्शन रवि, सुनील गुप्ता, दिलीप गुप्ता, कुंडल साह, संतोष शर्मा, श्रवण पासवान, भोला शर्मा, राजेश्वर राम, श्यामजी प्रसाद सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने सड़क पर से अविलंब मिट्टी सफाई करने की मांग की है.

उन्होंने कहा कि जल्द मिट्टी नहीं हटाने पर बाध्य होकर संवेदक के विरुद्ध मुख्यमंत्री जनसंवाद सहित वरीय पदाधिकारी के पास लिखित शिकायत दर्ज करायी जायेगी.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection: चुनावी समर के बीच नगर विकास मंत्री के क्षेत्र में निगम ने खर्च किये 25 करोड़

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like