JharkhandPalamu

पलामू : ह्यूमन ट्रैफिकिंग रोकने को लेकर गांव स्तर पर होगा पंजी का संधारण, आयुक्त एवं डीआईजी ने की एसडीपीओ के कार्यों की समीक्षा

Palamu : पलामू प्रमंडलीय आयुक्त जटा शंकर चौधरी एवं डीआईजी राजकुमार लाकड़ा ने संयुक्त रूप से आज पलामू प्रमंडल क्षेत्र के तीनों जिले के अनुमंडल स्तरीय पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक की और उनके कार्यों की समीक्षा की. समीक्षा के दौरान आयुक्त ने छठ पूजा को लेकर प्रमंडल क्षेत्र में चुस्त-दुरुस्त विधि व्यवस्था करने का निर्देश दिया. साथ ही उन्होंने मासिक प्रतिवेदन की समीक्षा करते हुए प्रमंडल क्षेत्र में डायन बिसाही से संबंधित आपराधिक घटनाएं नहीं हो, इस पर सख्ती से पेश आने का भी निर्देश दिया.

आयुक्त ने प्रमंडल क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर अफीम की खेती होने की सूचना को गंभीरता से लेते हुए इसकी खेती पर तत्काल रोक लगाने का निर्देश दिया. साथ इसकी खेती से जुड़े किसानों को वैकल्पिक खेती से जुड़ने हेतु प्रेरित करने का निर्देश दिया.

उन्होंने वन विभाग एवं कृषि विभाग से समन्वय स्थापित कर ऐसे उपाय किए जाने का निर्देश दिया, जिससे अफीम की खेती से जुड़े किसानों को दूसरे फसल से जोडने में मदद मिले और अफीम की खेती पर पूर्ण रोक लग सके.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ेंPARA TEACHER : अब 29 दिसंबर को होगा पारा शिक्षकों के भाग्य का फैसला

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

उन्होंने कहा कि किसानों को वैकल्पिक एवं संभानाओं वाली खेती से अत्यधिक मुनाफा होगा. आयुक्त ने भूमि से संबंधित अपराध को रोकने के लिए चौकीदार, इंटेलिजेंस, अंचल अधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी से समन्वय स्थापित कर उपाय करने का निदेश दिया, ताकि जमीन से संबंधित विवाद, अपराध नहीं हो.

आयुक्त ने ह्यूमन ट्रैफिकिंग के लिए हर गांव में एक पंजी संधारित कराने का निदेश दिया, इस पंजी में गांव से बाहर जाने वालों की सूचना दर्ज कराने की बातें कही, ताकि यह पता चल सके कि गांव के कौन से व्यक्ति किस शहर में गए हैं और वह किस कंपनी में काम कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:52 वर्षों से मोहम्मद मकसूद बगैर मोल भाव के ग्राहकों को बेच रहे हैं सूप और डाला

साथ ही इस पंजी के संधारण से यह भी पता चल पाएगा कि किस गांव के लोग ज्यादा बाहर जा रहे हैं और बाहर ले जानेवालों में कौन लोग जुड़े हैं. इसमें ट्रैफिकरों की पहचान करने में आसानी होगी और उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाए.

डीआईजी ने अनुमंडल स्तरीय पुलिस पदाधिकारियों की समस्याएं भी सुनी गई. बैठक में आयुक्त के सचिव मतियस विजय टोप्पो एवं पलामू प्रमंडल के तीनों जिले पलामू, लातेहार एवं गढ़वा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें:धनबाद पुलिस ने एक करोड़ का गांजा किया जब्त, हिमाचल प्रदेश से झारखंड में हो रही है तस्करी

Related Articles

Back to top button