JharkhandPalamu

राष्ट्रीय एकता के लिए दौड़ा पलामू, पटले आधुनिक भारत के कुशल शिल्पकार : सांसद

Palamu : देश के प्रथम गृहमंत्री लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के मौके पर पलामू जिला मुख्यालय डालटनगंज में रन फॉर यूनिटी का आयोजन किया गया. छहमुहान से पुलिस स्टेडियम तक ‘राष्ट्रीय एकता सदभावना’ दौड़ लगायी गयी. पलामू के सांसद वीडी राम, विधायक राधाकृष्ण किशोर के अलावा पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने संयुक्त रूप से दौड़ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

जिला प्रशासन के साथ सरकारी स्कूलों के बच्चों ने भी दौड़ लगायी. दौड़ जैसी ही शुरू हुई स्कूली बच्चों ने तेजी से दौड़ लगाना शुरू किया. दौड़ में साथ-साथ चल रहे सांसद, विधायक और जिला प्रशासन के अधिकारी पीछे छुटना शुरू हो गए. बाद में किसी तरह से सांसद विधायक और प्रशासनिक अधिकारी हांफते-हांफते पुलिस स्टेडियम पहुंचे.

ram janam hospital
Catalyst IAS

स्टेडियम में पहुंचते ही सबसे पहले लोग बैठने के लिए कुर्सी खोजते नजर आए. प्रशासन की ओर से आयोजित इस दौड़ में सबसे पहले अधिकारी के रूप में आरक्षी अधीक्षक इंद्रजीत महथा पुलिस स्टेडियम पहुंचे. उनके पीछे अन्य प्रशासनिक अधिकारी और बाद में सांसद और विधायक भी पहुंचे.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें – डॉ अजय ने कहा- आजसू व जेएमएम की तर्ज पर कांग्रेस करेगी ‘सरकार फेंको यात्रा’

देश पटेल के योगदान को कभी नहीं भूला सकता : सांसद

स्थानीय पुलिस स्टेडियम में सामूहिक दौड़ के बाद आयोजति कार्यक्रम में जनप्रतिनिधि, प्रशासन और आम लोगों से सबसे पहले लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटले की तस्वीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें नमन किया. मौके पर सांसद ने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटले आधुनिक भारत के कुशल शिल्पकार थे. आजादी के बाद अंग्रेजों ने फूट डालों नीति के तहत भरत के छोटे-छोटे रियासतों के राजाओं को स्वयं शासन करने और उन्हें भविष्य में भी भरपूर सहयोग करने का अश्वासन देकर देश छोड़कर चले गए थे. भारत के समक्ष विकट स्थिति उत्पन्न हो गयी थी. छोटे-छोटे रियासतों में बंटे लोगों को एक करना आसान काम नहीं था. वैसी विषम परिस्थित में सरदार वल्लभ भाई पटले ने पूरे भारत का दौरा कर सभी राजाओं को भारत में विलय करने के लिए तैयार किया. उस सयम कोई भी राजाओं ने पटेल के आग्रह को टाल नहीं सका. देश पटेल के योगदान को कभी नहीं भूला सकता.

छतरपुर विधायक राधाकृष्‍ण किशोर ने कहा कि सरदार पटले देश को एक सूत्र में पिरोने वाले महान व्यक्तित्व के धनी थे. आजाद भारत में पूर्व के सत्ताधारी दलों के लोगों ने ईमानदारी के साथ पटेल को वह स्थान नहीं दिया, जिसके वे वास्तविक हकदार थे. भाजपा के प्रदेश मंत्री मनोज सिंह ने कहा कि आज पटेल की जयंती के मौके पर उनको नमन कर बताये रास्ते पर चलने की जरूरत है. कार्यक्रम के अंत में सभी लोगों को एकता-अखंडता के लिए सांसद ने शपथ दिलायी और सरदार पटेल के बताये रास्ते पर चलने और देश के आंतरिक सुरक्षा में योगदान देने का संकल्प लिया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद ने वीडी राम ने की, जबकि संचालन शिक्षक परशुराम तिवारी ने की. धन्यवाद ज्ञापन सदर एसडीओ नंदकिशोर गुप्ता किया.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में आज से रजिस्ट्री बंद, IT Solution का सरकार के साथ करार खत्म

ये थे कार्यक्रम में मौजूद

डीएसपी सुरजीत, प्रशिक्षु आइएस डॉ ताराचंद, जिला परिवहन पदाधिकारी शैलेश कुमार, नगर निगम के कार्यपालक पदाधिकारी अजय साव, भाजपा जिला अध्यक्ष नरेंद्र पांडेय, पूर्व जिला अध्यक्ष परशुराम ओझा, अमित तिवारी, पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष विनोद सिंह, जिला परिषद सदस्य लवली गुप्ता, डॉ. सत्यजीत गुप्ता, अविनाश वर्मा, सुधीर कुमार अग्रवाल, अमिताभ मिश्र, कमलानंद दुबे, संजय मिश्रा सहित ब्राहम्ण प्लस टू उच्च स्कूल, गिरिवर प्लस टू उच्च स्कूल, मिशन बालिका उच्च स्कूल, कस्तूरबा बालिका उच्च विद्यालय चैनपुर, एनसीसी के कैडेट मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button