JharkhandPalamu

पलामू: मेदिनीनगर में होल्डिंग टैक्स बढ़ोतरी का विरोध जारी, बोर्ड की बैठक में लाया जाएगा निरस्त करने का प्रस्ताव

Palamu : होल्डिंग टैक्स बढ़ोतरी के विरुद्ध मेदिनीनगर नगर निगम की मेयर अरूणा शंकर ने डिप्टी मेयर राकेश सिंह उर्फ मंगल एवं अन्य पार्षदों के साथ काला बिल्ला लगाकर विरोध जता रही हैं. मेयर ने पत्रकारों के समक्ष निगम क्षेत्र की जनता की मजबूरी बताते हुए एवं इस निर्णय को सरकार का तानाशाही निर्णय करार दिया. मेयर ने कहा कि राज्य की हेमंत सरकार ने पहले खाद्यान्नों का दाम बढ़ाने के लिए दो प्रतिशत कृषि मंडी टैक्स लगाया, तो अब पांच गुणा तक होल्डिंग टैक्स बढ़ाकर व्यवसायियों और नागरिकों की कमर तोड़कर रख दी है.

महापौर ने कहा कि नगरपालिका अधिनियम के तहत सरकार को होल्डिंग टैक्स बढ़ाने से पहले राज्य के सभी निगम एवं निकाय से एक सहमति पत्र लेना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया. सरकार ने तानाशाह तरीके से होल्डिंग टैक्स बढ़ाकर जनमानस को तबाह करने का काम किया है.

इसे भी पढ़ें:झारखंड पंचायत चुनाव: दूसरे चरण का मतदान कल, धनबाद में 2 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का करेंगे प्रयोग

Catalyst IAS
ram janam hospital

उन्होंने कहा कि डिप्टी मेयर एवं पार्षद संघ ने निर्णय लिया है कि निगम की अगामी बोर्ड की बैठक में इस बढ़े होल्डिंग टैक्स को निरस्त किया जायेगा और सरकार को पुर्न विचार के लिए विरोध पत्र भेजा जायेगा. उन्होंने कहा कि सरकार अगर उनकी नहीं सुनती है तो जनता के साथ मिलकर जन आंदोलन किया जायेगा.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

उन्होंने कहा कि मेदिनीनगर पहली बार निगम क्षेत्र सूचित हुआ है. इसके दायरे में कई नये वार्ड आए हैं. सरकार इन नये वार्डों को अगले पांच सालों तक होल्डिंग टैक्स से मुक्त करते हुए वहां मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने की दिशा में पहल करें.

इसे भी पढ़ें:एक साल से अधिक समय से निष्क्रिय विद्युत नियामक आयोग को मिले दो सदस्य, सीएम ने दी मंजूरी, अधिसूचना जल्द

नये क्षेत्रों में माफ हो होल्डिंग टैक्स : डिप्टी मेयर

मेदिनीनगर नगर निगम के पहले डिप्टी मेयर बने राकेश कुमार सिंह उर्फ मंगल ने कहा कि झारखंड सरकार मेदिनीनगर वासियों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है.

इसे हरगीज बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नहीं चाहते है कि मेदिनीनगर नगर निगम क्षेत्र का विकास तेजी से हो. उन्होंने कहा कि होल्डिंग टैक्स नये क्षेत्रों में माफ हो. होल्डिंग टैक्स मुद्दे को लेकर अगर उन्हें सड़क पर भी उतरना पड़ा तो वे उतरने को तैयार हैं.

अगामी 20 मई को बोर्ड की बैठक में उपरोक्त प्रस्ताव को रद्द करते हुए सरकार को अवगत कराया जायेगा. हमें उनके निर्णय का इंतेजार होगा. मौके पर पार्षद राजीव शुक्ला गोल्डी, प्रमीला देवी, चंचला देवी समेत कई पार्षद उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें:राज्यसभा में उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस अडिग, नेता जल्द मिलेंगे हेमंत से

Related Articles

Back to top button