Crime NewsJharkhandLead NewsPalamu

पलामू: दो करोड़ 10 लाख गबन का आरोपी पोस्टमास्टर गिरफ्तार, 2019 से था फरार

Palamu : दो करोड़ 10 लाख रूपये गबन के आरोपी पोस्टमास्टर कामेश्वर राम को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. पोस्टमास्टर को शहर थाना क्षेत्र के अघोर आश्रम सुदना स्थित उनके घर से गढ़वा जिले की रमना पुलिस ने गिरफ्तार किया. पोस्टमास्टर वर्ष 2019 से गिरफ्तारी के डर से फरार चल रहे थे. उनका अपना घर छतरपुर थाना क्षेत्र के सिलदाग में भी है.
विदित हो कि पोस्टमास्टर कामेश्वर राम सहित चार के खिलाफ रमना पोस्ट ऑफिस में 2 करोड़ 10 लाख 41 हजार 382 रूपये का गबन करने आरोप में प्रतिवेदित हुआ है. गबन की राशि और बढ़ने की संभावना बतायी गयी है.

पोस्टमास्टर कामेश्वर राम के अलावा रजवाडीह पोखराहा के मंजीत कुमार, भवनाथपुर के अरसली निवासी अश्विनी ठाकुर और संजय कुमार गुप्ता के खिलाफ गढ़वा के सहायक डाक अधीक्षक शंकर कुजूर ने मामला दर्ज कराया था.

इसे भी पढ़ें :आयुष चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति की उम्र बढ़ाने के मामले में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार पर लगाया 25 हजार का जुर्माना

ram janam hospital
Catalyst IAS

अनुसंधान और पर्यवेक्षण से चारों प्राथमिकी आरोपियों को विरूद्ध मामला सत्य पाया गया है. तीन आरोपी मंजीत, अश्विनी और संजय गिरफ्तार-जमानत पर मुक्त हैं, लेकिन पोस्टमास्टर कामेश्वर राम गिरफ्तारी के डर से लगातार बचते फिर रहे थे.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

नगर उंटारी अंचल के पुलिस निरीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली कि पोस्ट मास्टर कामेश्वर राम मेदिनीनगर में अघोर आश्रम सुदना इलाके में रह रहे हैं.

सूचना पर रमना थाना पुलिस को कार्रवाई के लिए मौके पर भेजा गया. मेदनीनगर में टीओपी 3 प्रभारी अभिमन्यु कुमार के साथ कार्रवाई कर पोस्ट मास्टर को गिरफ्तार किया गया.

इसे भी पढ़ें :स्वास्थ विभाग ने बिना सैम्पल और जांच किये भेज दी एंटीजन टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट

उल्लेखनीय है कि वादी पलामू के डाक अधीक्षक एसके तिवारी के लिखित आवेदन के आधार पर प्राथमिकी आरोपी कामेश्वर राम एवं आरोपियों के खिलाफ रांची सीबीआई औऱ एसीबी में भी केस नंबर आरसी 2 (ए) 2020 आर/यूएस-120बी आर/डब्लू के तहत सुसंगत धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया है.

पुलिस की गिरफ्त में आया पोस्टमास्टर करोड़ों रुपये का मालिक है. इस घोटाले की जानकारी मिलने के बाद सीबीआई ने पलामू और गढ़वा निबंधन विभाग से कामेश्वर राम की संपत्ति का ब्यौरा मांगा था, उसके बाद जो खुलासा हुआ वो काफी चौंकाने वाला है.

इसे भी पढ़ें :पीएम मोदी के निधन के फर्जी वीडियो पर दीपक प्रकाश ने कहा- राजनीतिक विद्वेष में फर्जी वीडियो चलाना अपराध

निबंधन विभाग के मुताबिक पोस्टमास्टर कामेश्वर राम के पास पलामू के विभिन्न इलाके में करीब दो करोड़ की जमीन रजिस्टर्ड है. उसके नाम से हैदरनगर के खरगड़ा, सजवन, सलेमपुर और चेचरिया में करीब आठ एकड़ की जमीन खरीदी गई है.

कामेश्वर राम पर डाकघर के ग्राहकों के आवर्ती खाता से प्रथम भुगतान के बाद फर्जी तरीके से अलग-अलग तारीखों में फिर से भुगतान करने का आरोप है.

जांच में ये पाया गया कि कामेश्वर राम सैकड़ों ग्राहकों आरडी जमाकर्ताओं की राशि भी गायब कर रहा था. एफआईआर में कामेश्वर राम पर डाकघर के आरडी लेजर को भी गायब करने का आरोप लगाया गया है.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : हाईकोर्ट ने पुलिस नियुक्ति में आदेश का पालन नहीं करने पर गृह सचिव को भेजा अवमानना का नोटिस

Related Articles

Back to top button