Crime NewsPalamu

पलामू : महज सौ रुपए के विवाद में दो गांवों के लोग भिड़े, मारपीट में डेढ़ दर्जन जख्मी

Palamu : पलामू जिले के पाटन थाना क्षेत्र में मात्र सौ रुपए के विवाद में दो गांव के दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट हो गई. इसमें 15 लोग जख्मी हो गए. 12 का उपचार पाटन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है और तीन को बेहतर इलाज के लिए मेदिनीनगर स्थित मेदिनी राय मेडिकल कालेज अस्पताल रेफर किया गया है. घटना रविवार की है. सूचना मिलने के बाद पाटन थाना की पुलिस स्थल पर पहुंची और मामला को शांत कराया. दोनों पक्षों की ओर से पाटन थाना में मामला भी दर्ज करा दिया गया है. घटना पाटन थाना क्षेत्र के बैदा और मंझौली गांव की है.

बताया जाता है कि चार वर्ष पूर्व मंझौली निवासी जमालुद्दीन अंसारी अपनी पत्नी के साथ बैदा गांव निवासी हाशिम शेख की दुकान में फोटो खिंचवाई थी. उसी रात जमालुद्दीन की पत्नी का निधन हो गया था. नतीजा वह फोटो लेने दुकान पर नहीं पहुंचा. बाद में जमालुद्दीन ने फोटो लेने से भी इनकार कर दिया. हालांकि कहा गया कि दुकानदार को इसके एवज में एक सौ रूपया दे दिया था. चार वर्ष गुजरने के बाद महज एक सौ रूपए का मामला तूल पकड़ लिया.

रविवार को दोनों गांवों के लोग आमने-सामने हो गए और जमकर लाठी-डंडे से मारपीट हुई. घायलों में मंझौली गांव निवासी 36 वर्षीय मंसूर अंसारी, 32 वर्षीय नसीम अंसारी, 28 वर्षीय एनामुल अंसारी और बैदा गांव निवासी 41 वर्षीय मुख्तार अंसारी, 17 वर्षीय मजीद अंसारी, 21 वर्षीय नौशाद अंसारी, 20 वर्षीय इरशाद अंसारी, 40 वर्षीय रमजान अंसारी, 55 वर्षीय सत्तार अंसारी, 36 वर्षीय नसीम अंसारी, 50 वर्षीय इनामुल अंसारी, 18 वर्षीय आजाद अंसारी समेत सत्तार अंसारी, रमजान अंसारी व शौकत अंसारी का नाम शामिल है. इसमें 12 लोगों का उपचार पाटन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है. सत्तार अंसारी, रमजान अंसारी व शौकत अंसारी को बेहतर उपचार के लिए मेदिनीनगर स्थित मेदिनी राय मेडिकल कालेज अस्पताल भेजा गया है.

इसे भी पढ़ें :आइआइटी धनबाद के एमएससी कोर्स में एडमिशन शुरू, जैम स्कोर होगा आधार

advt

जमालुद्दीन अंसारी के पुत्र मो असगर व ग्यासुद्दीन अंसारी ने बताया कि पिता को हाशिम बार-बार धमकी देता था. मंझौली गांव के ग्रामीणों ने कहा कि सैदपुर के लोगों ने फायरिंग की. इसके बाद मारपीट की घटना हो गई.
ज़ख्मी सतार अंसारी ने बताया कि मझौली के रहने वाले जमाल मियां ने चार वर्ष पहले बैदा के रहने वाले हासिम अंसारी से अपनी पत्नी का फोटो खिंचाया था. इसके लिए फोटोग्राफर हासिम को सौ रुपया दिया था. फ़ोटो खिंचाने के कुछ दिन बाद सतार की पत्नी का निधन हो गया. फिर उसने फ़ोटो नहीं लिया और हासिम से पैसा मांगने लगा.

इसे लेकर कुछ दिन विवाद चला फिर हासिम ने पैसा वापस कर दिया. लेकिन विवाद इतना गहरा हो गया था कि उसका बदला लेने के फिराक में जमाल मियां लगा था. शनिवार को फोटोग्राफर हाशिम जब पालहे बाज़ार से लौट रहा था तब मझौली में उसे घेर लिया गया. उसके साथ मारपीट कर बाइक रख लिया. जब बैदा के ग्रामीणों को पता लगा तब उन्होंने हासिम को भीड़ से छुड़ाकर लाया. रविवार की सुबह करीब आठ बजे बड़ी संख्या में मझौली के ग्रामीण लाठी-डंडा, तलवार से लैस होकर बैदा पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ें :शिवसेना- कांग्रेस में दरार, उद्धव बोले- कोई अकेले लड़ने की बात करेगा तो लोग जूतों से पीटेंगे

पाटन थाना प्रभारी प्रकाश कुमार ने बताया कि मारपीट मामले में दोनों पक्षों ने प्राथमिकी दर्ज कराई है. इसमें 12 नामजद समेत 15 अज्ञात लोगों के विरूद्ध मामला दर्ज किया गया है. प्रकाश कुमार ने बताया कि पुलिस गहनतापूर्वक मामले की जांच में जुटी है. दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: