न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पुलिस को बड़ी सफलता, माओवादियों की पांच राइफल और गोलियां बरामद

90

Palamu : नक्सलियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में पलामू पुलिस को एक और बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने मनातू थाना क्षेत्र के धूमखांड़ स्थित पहाड़ी क्षेत्र के आस-पास सर्च अभियान में प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी द्वारा छिपा कर रखी गयी पांच राइफल और 153 गोलियां बरामद की है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें- 18 महीने में एयरपोर्ट से लेकर नामकुम तक की 6.90 किमी सड़क नहीं बनी

गिरफ्तार नक्‍सलियों के द्वारा मिली सूचना

जिले के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत महथा ने शनिवार को अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता में पत्रकारों को बताया कि जिस इलाके से हथियार और गोलियां बरामद हुए हैं, वह क्षेत्र पड़ोसी राज्य बिहार की सीमा और चतरा जिले से सटा हुआ है. मनातू थाने से इसकी दूरी करीब 15 किलोमीटर है और यह उरूर-सरइया मार्ग पर अवस्थित है. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हाल के दिनों में गिरफ्तार नक्सलियों से उन्हें सूचना मिली थी कि घूमखांड़ स्थित विद्यालय के उत्तरपूर्वी पहाड़ी पर माओवादियों द्वारा हथियार छिपाकर रखे गये हैं. सूचना पर मनातू थाना पुलिस और सीआरपीएफ 134 बटालियन के जवानों ने सर्च अभियान चलाया. इस दौरान पहाड़ी  पर पत्थरों के बीच प्लास्टिक की तिरपाल में सुरक्षित ढंग से छिपाकर रखे गये हथियार और कारतूस जब्त किये गये.

इसे भी पढ़ें-पीएमसीएच के प्रसूति विभाग में सेकेंड क्लास और थर्ड क्लास ट्रीटमेंट

हथियार संदीप जी के दस्‍ते की होने की संभावना

Related Posts

गिरिडीह : बार-बार ड्रेस बदलकर सामने आ रही थी महिलायें, बच्चा चोर समझ लोगों ने घेरा

पुलिस ने पूछताछ की तो उन महिलाओं ने खुद को राजस्थान की निवासी बताया और कहा कि वे वहां सूखा पड़ जाने के कारण इस क्षेत्र में भीख मांगने आयी हैं

पुलिस अधीक्षक ने ये हथियार हार्डकोर नक्सली कुंदन यादव, अरविंद भुइयां या संदीप जी के दस्ते का होने की संभावना व्यक्त की है. उन्होंने कहा  है कि चूंकि यह इलाका चतरा से सटा हुआ है. इसलिए यहां संदीप जी की गतिविधियां ज्यादा देखने को मिलती हैं. ऐसे में ये हथियार संदीप जी के होने की संभावना ज्यादा है. उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष फरवरी में संदीप जी अपने दस्ते के साथ बुढ़ा पहाड़ जा रहा था. इस दौरान उसका सहयोगी कई हथियार लेकर भाग गया था. ये हथियार संदीप जी के दस्ते से चोरी गये हथियार भी हो सकते हैं. पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है. प्रेस वार्ता में अन्य लोगों के अलावा सीआरपीएफ 134 बटालियन के कमांडेंट एपी शर्मा, द्वितीय कमान पदाधिकारी टीएम पैथे, एएसपी अभियान अरूण कुमार सिंह भी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें-लोहरदगाः हथियार के बल पर युवती से तीन सालों तक दुष्कर्म

छापामारी दल में कौन-कौन

एएसपी अभियान अरूण कुमार सिंह, द्वितीय कमान अधिकारी सीआरपीएफ टीएम पैथे, सहायक अवर निरीक्षक नरेश प्रसाद यादव, क्यूआरटी के हवलदार बिजय सिंह, सरयू पासवान, शांति राम महतो, आरक्षी रंजीत कुमार, बलिराम दास, जयंत प्रकाश टोप्पो, कुंदन कुमार सिंह, रमेश पाल, सैट 75 आईआरबी के हवलदार रणबिजय दुबे, श्रीकांत दुबे, आरक्षी संदीप उरांव, विनय प्रभात टोप्पो, रतनाकर महतो, बबलू कुमार मंडल, मनोज कुमार यादव, सन्नी कुमार, अमित कुमार और प्रकाश चक्रवर्ती शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: