न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : अधेड़ की हत्या, ठंड से शिक्षक की मौत और नवजात का शव मिलने से सनसनी

80

Palamu : पलामू जिले के पांकी थाना क्षेत्र में हुई अधेड़ की हत्या, ठंड से शिक्षक की मौत और नवजात का शव मिलने के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी है. पांकी के बसडीहा में बीती रात लूटपाट की नियत से छठन मोची नामक अधेड़ की गला दबाकर हत्या कर दी गयी. उसका शव शनिवार को हाइवे पेट्रोलिंग के जवानों ने बरामद किया. शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया गया है.

ग्रामीणों के अनुसार छठन मोची शुक्रवार को डंडार के चंद्रपुरा बस्ती इलाके में धान कटायी का काम किया था और रात में वहां से चला था. उसके पास मजदूरी के सौ रुपये थे. बीती रात उसकी बसडीहा इलाके में गला दबाकर हत्या कर दी गयी. आशंका व्यक्त की जा रही है कि सड़क लूट के दौरान छठन की हत्या की गयी होगी. पुलिस अज्ञात पर मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है.

ठंड ने ली शिक्षक की जान

पांकी के आसेहार निवासी प्रमोद कुमार चंद्रवंशी की ठंड लगने से मौत हो गयी. प्रमोद रतनपुर के इरगु में रहकर बाल विकास विद्यालय नाम से प्राइवेट स्कूल का संचालन करते थे. शुक्रवार की देर शाम तक जब वह नहीं जगे तो उनका दरवाजा तोड़कर कारण की जानकारी ली गयी. देखा गया कि कमरे में शिक्षक मृत पड़े थे. प्रमोद पूर्व में साक्षरता कार्यक्रम से भी जुड़े थे, लेकिन इधर, लंबे समय से प्राइवेट स्कूल का संचालन कर रहे थे.

गजबोर पुल से नवजा का शव बरामद

पांकी के गजबोर पुल के पास से शनिवार की सुबह एक नवजात का शव मिलने के बाद इलाके के लोगों की भीड़ देखने के लिए जमा हो गयी. आशंका व्यक्त की जा रही है कि गर्भपात कराने के बाद बच्चे का शव गजपोर जैसे सुनसान इलाके में लाकर फेंका दिया गया होगा. जिससे ठंड लगने से उसकी मौत हो गयी होगी. पांकी क्षेत्र में गजबारे पुल से सटे इलाके में अवैध रूप से कई नर्सिंग होम संचालित हो रहे हैं, जहां गर्भपात कराने जैसे कुकर्म ज्यादा होते हैं, लेकिन कार्रवाई के मामले में स्वास्थ्य विभाग मौन साधे हुए है, जिससे नवजात की मौत की खबरें आम हो गयी है.

पारा पहुंचा 7 पर

जिले में पड़ रही कड़ाके की ठंड के कारण न्यूनतम तापमान काफी गिर गया है. जिले में शनिवार को न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. पारा के लगातार गिरने से ठंड जानलेवा हो गयी है. सुबह और शाम का आलम काफी बुरा है. रात ढलते ही कड़ाके की ठंड से जनजीवन पर बुरा असर पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें : प्रधान सचिव ने बताया कैसे पारा शिक्षकों की नौकरी हो सकती है स्थायी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: