JharkhandPalamu

पलामू: रात में साथ सोए सास-बहू, संदिग्ध परिस्थिति में बहू की मौत, सास की हालत गंभीर

Palamu : जिले के तरहसी थाना क्षेत्र के मंझौली पंचायत के गुरतुरी गांव में शनिवार की रात एक साथ सोए सास-बहू में से पतोहू को मृत पायी गयी. जबकि उसकी सास की हालात गंभीर है. उसे बेहतर इलाज के लिए रांची रेफर कर दिया गया है. सूचना मिली है कि रांची में उसे वेंटीलेटर पर रखा गया है. रात में ठीक ठाक सोई दोनों महिलाओं में एक की मौत और दूसरे के गंभीर हो जाने से लोग हैरान परेशान हैं. गांव मे चर्चा है कि आखिर रात में ऐसा क्या हो गया, जिससे ऐसी स्थिति बन गयी.

इसे भी पढ़ें :  धनबाद रिंग रोड की अड़चनों को दूर करने व 10 किमी का बाइपास निर्माण का DPR बनाने का निर्देश

मृत महिला की पहचान गुरतुरी निवासी अजय कुमार की पत्नी सरोज देवी के रूप में हुई है. सास कुसुमरी देवी है. महिला के मायके पक्ष के लोगों ने पति, ससुर सहित अन्य पर दहेज हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने पूछताछ के लिए मृतका के पति को हिरासत में लिया है. थाना प्रभारी कर्मपाल भगत ने बताया कि मामले में पोस्टमार्टम के बाद स्थिति स्पष्ट हो पायेगी.

जानकारी के अनुसार अजय कुमार की मां कुसुमरी देवी का कुछ दिन पहले एक्सीडेंट हो गया था. वह बेड रेस्ट पर थी. शनिवार की रात सरोज देवी अपनी सास की देखभाल के बाद उसके साथ उसके कमरे में ही सो गयी थी. रविवार की सुबह जब दोनों सोकर नहीं उठे तो परिवार के लोग उन्हें उठाने गये. दोनों अचेत पड़े मिले. आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए मेदिनीनगर के एक निजी अस्पताल में लाया गया, जहां सरोज देवी को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि उसकी सास की गंभीर स्थिति को देखते हुए रांची रिम्स रेफर कर दिया गया.

इसे भी पढ़ें :  आदित्यपुर जयप्रकाश उद्यान में कट्टा लेकर घूम रहे बिहार के युवक को पुलिस ने पकड़ा

सरोज का शव जब गांव पहुंचा तो परिवार में कोहराम मच गया. सूचना मिलने पर सेलारी स्थित सरोज के मायके से लोग मौके पर पहुंचे. भाई मनोज कुमार एवं दयानंद सिंह ने आरोप लगाया कि दहेज के लिए उसकी बहन की गला दबाकर हत्या कर दी गयी है. मनोज कुमार ने इस सिलसिले में तरहसी थाना में सरोज के पति के अलावा ससुर, भसुर, गोतनी पर हत्या का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है.

भाई मनोज ने कहा कि गाड़ी लेने के लिए दहेज के रूप में 5 लाख रूपये की मांग की जा रही थी. डेढ़ लाख रूपये दिये गये थे. इधर, मेदिनीनगर मकान बनाने के लिए पैसों की मांग की जा रही थी.

सरोज का पति किराये पर गाड़ी चलवाने का व्यवसाय करता है. घटना के समय उसका पति, गोतनी, भसुर और सास घर पर थे. जबकि ससुर मेदिनीनगर में थे. सरोज की मौत कैसे हुई, यह अभी तक रहस्य बना हुआ है. हालांकि उसके मुंह से खून निकल रहा था. शरीर पर किसी तरह के चोट या गला दबाने के निशान नहीं मिले हैं. ऐसे में पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मामले में कुछ भी ठोस बताने को तैयार है.

इसे भी पढ़ें : मानगो-आजादनगर क्षेत्र में लूट और फायरिंग की तीन वारदातों का खुलासा, पांच गिरफ्तार, दो कट्टा और दो स्कूटी बरामद

Advt

Related Articles

Back to top button