Palamu

पलामू: पाटन में पुलिस-ग्रामीणों में हिंसक झड़प केस में 200 से अधिक लोगों पर मामला दर्ज

Palamu: जिले के पाटन थाना क्षेत्र के मेराल गांव में सोमवार को पुलिस-ग्रामीणों के बीच हुई हिंसक झड़प मामले में कार्रवाई की गयी है. पुलिस की ओर से माले नेत्री दिव्या भगत सहित 2 सौ से अधिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इसमें 15 नामजद और दो सौ अज्ञात शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंःCyclone Nisarga: आज मुंबई के तट से टकरायेगा चक्रवात, समुद्र में 6 फीट तक उठ सकती है लहरें

क्या है मामला

Catalyst IAS
ram janam hospital

मेदिनीनगर सदर एसडीपीओ संदीप कुमार गुप्ता ने बताया कि 28 अप्रैल 2020 को पाटन थाना क्षेत्र के मेराल में एक नाबालिग लड़की का शव पेड़ से लटका हुआ पाया गया था. इस संबंध में 29 अप्रैल को पाटन थाना कांड संख्या-48/2020 धारा- 302, 201, 120बी, 34 आइपीसी के तहत केस दर्ज है.

The Royal’s
Sanjeevani

जांच में हत्या का मामला सामने आया है, जिसका अनुसंधान चल रहा है. लेकिन अबतक की जांच में मृतका के साथ रेप की पुष्टि नहीं की गयी है. हत्याकांड की जांच गंभीरता से की जा रही है.

पुलिस का कहना है कि इस केस को मुद्दा बनाते हुए और मृतका के साथ गैंगरेप कर हत्या की बात बताकर सोमवार को माले नेता दिव्या भगत तथा पवन विश्वकर्मा ने ग्रामीणों को गुमराह किया गया.

इसे भी पढ़ेंःलोहरदगा: नक्सलियों ने बॉक्‍साइट खनन में लगे 11 वाहनों को फूंका, करोड़ों का नुकसान

पुलिस-प्रशासन पर किया था हमला

मेराल में सभा कर पुलिस के खिलाफ ग्रामीणों को भड़काया गया. जिसके बाद लॉकडाउन का अनुपालन कराने के लिए पहुंचे सीओ और पाटन के थाना प्रभारी से ग्रामीण उलझ गए.
इस दौरान अंचलाधिकारी की सरकारी वाहन एवं थाना की जीप को क्षतिग्रस्त कर दिया. ग्रामीणों के हमले और पथराव से पाटन एवं नावाजयपुर थाना प्रभारी आंशिक रूप से घायल हुए.

इस घटना के संबंध में पाटन थाना में मामला दर्ज किया गया है. इसमें माले नेत्री दिव्या भगत, पवन विश्वकर्मा, जयमंगल सिंह एवं अन्य 15 पर नामजद प्राथमिकी एवं 200 अज्ञात के विरूद्ध मामला दर्ज किया गया है. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है.

इसे भी पढ़ेंःपलामू में गैंगस्टर कुणाल सिंह की गोली मारकर हत्या, जमानत पर था बाहर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button