JharkhandPalamu

पलामू: हड़ताल पर गये पारा चिकित्साकर्मी, कोरोना जांच से लेकर इलाज पर पड़ेगा असर

Palamu: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सरकार और स्वास्थ्य विभाग के लिए नयी परेशानी सामने आ गयी है. कोरोना जांच से लेकर इलाज में लगे पारा चिकित्साकर्मी अपनी मांगों के समर्थन में आज से हड़ताल पर चले गये. सारे कर्मी मंगलवार को दिनभर सांकेतिक रूप से हड़ताल रहे. इस बीच उनकी मांगो पर विचार नहीं किया गया. इससे नाराज सारे कर्मियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा कर दी.

इसे भी पढ़ें –850 पैरामेडिकल कर्मी एक दिन की हड़ताल पर, कोरोना की जांच पर पड़ा असर

10 हजार कर्मी करेंगे हड़ताल

पलामू सहित पूरे झारखंड में 10 हजार कर्मी हड़ताल में रहेंगे. पलामू में हड़ताली कर्मियों की संख्या 500 के आसपास है. हड़ताल पर जाने वाले कर्मियों में लैब टेक्नीशियन से लेकर आयुष चिकित्सक भी शामिल हैं. करीब-करीब हड़ताली कर्मी कोरोना संक्रमण काल में फ्रंटलाइन वर्कर हैं.

advt

हड़ताल की वजह से जांच से लेकर इलाज और देखभाल पर बुरा असर पड़ेगा. अपनी मांगों पर जोर डालने के लिए मंगलवार को अनुबंधित कर्मियों ने सीएस कार्यालय के मुख्य गेट पर धरना दिया. सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.

झारखंड राज्य अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मी संघ पलामू जिला की जिला सचिव चंचला कुमारी ने कहा गया कि संघ विभिन्न मांगों को लेकर वर्षां से संघर्षरत हैं. लेकिन सरकार ने इस दिशा में अब तक कोई कदम नहीं उठाया है. इस कारण सभी अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मियों में रोष व्याप्त है. सारे कर्मियों द्वारा हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया गया है.

25 जुलाई को स्वास्थ्य मंत्री को कराया गया है अवगत

जिला सचिव चंचला कुमारी ने कहा कि प्रदेश स्तर पर बैठक कर 25 जुलाई को संघ की मांगों के संबंध में स्वास्थ्य मंत्री को अवगत कराया जा चुका है. इसके बाद भी हमारी मांगों पर अब तक कोई विचार नहीं किया गया. जिला सचिव ने कहा कि आंदोलन को एनएचएम के सभी पारा एवं गैर पाराकर्मी संगठनों का समर्थन प्राप्त है.

adv

क्या है मांग

संघ की मांगों में स्वास्थ्य विभाग के विभिन्न संभागों में अनुबंध पर कार्यरत सभी पारा मेडिकलकर्मी का सीधा समायोजन और नियमितिकरण करना, निबंधन या नवीनीकरण से वंचित स्वास्थ्य विभाग में अनुबंध पर कार्यरत कर्मियों को एक बार नियम शिथिल कर नवीनीकरण करने, राज्य में आइपीएच नियमानुसार, सभी सीएचसी, पीएचसी में एएनएम और लैब टेक्निशियनन का स्वीकृत पद पर समायोजन करने, अन्य राज्यों के अनुसार कोविड कार्य का अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि तथा समायोजन की प्रक्रिया होने तक समान कार्य का समान वेतन लागू करने, अनुबंधकर्मियों की आकस्मिक मृत्यु पर आश्रित को जीवन बीमा का लाभ देने आदि मांग शामिल है.

आंदोलन में ये थे शामिल

आंदोलन में पलामू स्वास्थ्य विभाग के डीपीएम दीपक कुमार, अनल कुजूर, धीरज सिन्हा, सत्येंद्र कुमार, राहुल राज, सुनीता कुमारी, डा. अमित मिश्रा, धीरज पांडेय, प्रिंस सिंह, अनुज सिंह, शशिकांत सहित दर्जनों कर्मी शामिल थे.

इसे भी पढ़ें –सुशांत केस की CBI जांच की मांग से रिया के वकील को एतराज, कहा- बिहार सरकार नहीं कर सकती सिफारिश

advt
Advertisement

13 Comments

  1. Admiring the persistence you put into your
    site and in depth information you provide. It’s nice to come across a blog every once in a while that isn’t
    the same old rehashed information. Great read! I’ve bookmarked your site and I’m including your RSS feeds to my Google
    account.

  2. Thank you for the good writeup. It in fact was a amusement account it.
    Look advanced to far added agreeable from you!
    By the way, how could we communicate? cheap flights 3gqLYTc

  3. all the time i used to read smaller content which also clear their motive, and that is also happening with
    this article which I am reading at this place.
    cheap flights 3gqLYTc

  4. Woah! I’m really digging the template/theme of this website.
    It’s simple, yet effective. A lot of times it’s challenging to get that “perfect balance” between usability and visual appeal.
    I must say that you’ve done a superb job with this.
    Additionally, the blog loads very quick for me on Firefox.
    Exceptional Blog! yynxznuh cheap flights

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button