न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : भाकपा माओवादी भगवान साव गिरफ्तार, कई मामलों में था वांछित

168

Palamu : पुलिस ने गुरुवार को भाकपा माओवादी भगवान साव गिरफ्तार को गिरफ्तार किया. गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए पलामू पुलिस को यह सफलता हासिल हुई है. भगवान साव कि गिरफ्तारी नवडीहा बाजार थाना क्षेत्र के रामगढ़ गांव से हुई है. गौरतलब है कि गिरफ्तार नक्सली भगवान साव पर कई अपराधिक मामले दर्ज थे और पुलिस को लंबे समय से उसकी तलाश थी.

इसे भी पढ़ें- खूंटी में जबरदस्त तनाव के बीच प्रशासन का फैसला, 388 ट्रेनी दरोगा संभालेंगे कानून-व्यवस्था, तुरंत खूंटी रवाना होने का आदेश

गिरफ्तार नक्सली भगवान साव राकेश भूईयां के दस्ते का सक्रिय सदस्य था. गौरतलब है कि  नक्सली भगवान साव कई कांडों में शामिल था. उसपर छतरपुर थाना क्षेत्र में मोबाइल टावर जलाने के साथ-साथ कई मामले दर्ज थे. उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस कई दिनों से छापेमारी कर रही थी. इस पूरे मामले की जानकारी एसपी इंद्रजीत महथा ने दी.

रांची में रहकर मिठाई बनाता था माओवादी  

पलामू के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा ने गुरुवार को बताया कि गिरफ्तार माओवादी कई वारदातों को अंजाम देने के बाद छिप कर रह रहा था. वर्तमान में भगवान साव रांची के एक होटल में मिठाई बनाने का काम कर रहा था. इधर, इन दिनों अर्बन नक्सलिस्म बहुत बढ़ गया है. शातिर अपराधी और नक्सली वारदातों को अंजाम देने के पश्चात कुछ दिनों के लिए महानगरों में अपनी पहचान छिपा कर रहते हैं और जरूरत पड़ने पर पुनः अपने कार्य क्षेत्र में किसी बड़ी हिंसक वारदात को अंजाम देने के पश्चात शहरों की ओर अपने अस्थायी ठिकानों में पहुंच जाते हैं.

इसे भी पढ़ें- प्रमोशन में आरक्षण पर लगी रोक हाई कोर्ट ने हटायी, पहले वाली व्यवस्था बहाल

घर जाने से पहले चढ़ा पुलिस के हत्थे

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस के सूचना तंत्र से हमें जानकारी मिली थी कि माओवादी भगवान साव छत्तरपुर अनुमंडल के नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र अंतर्गत अपने गांव रामगढ़ आने वाला है. इस सूचना के आधार पर में पुलिस उपाधीक्षक विमलेश कुमार त्रिपाठी के नेतृत्व में छापेमारी दल ने भगवान साव को गिरफ्तार कर लिया. डीएसपी के साथ थे नौडीहा बाजार के अवर निरीक्षक बालेश्वर सिंह, देवनाम उरांव और जिला पुलिस बल और सैप के जवान भी शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: