JharkhandPalamu

पलामू: रेलवे ट्रेक के किनारे बाइक को मालगाड़ी ने लिया चपेट में, भांजे ने तोड़ा दम- मामा गंभीर

जख्मी को इलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया

Palamu: डालटनगंज रेलवे स्टेशन से सटे बीसफुटा पुल के निकट ट्रेन की चपेट में आने से एक किशोर की मौत हो गयी, जबकि अधेड़ गंभीर हो गया. जख्मी को इलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है. एक व्यक्ति इस घटना में बाल बाल बच गया. बताया जाता है कि मेदिनीनगर के बैरिया निवासी शिवशंकर राम (45 वर्ष), इंद्रादेव राम के 16 वर्षीय पुत्र नंद लाल कुमार एवं सिक्की मेराल निवासी नंदलाल सिंह डालटनगंज से गढ़वा जा रहे थे. तीनों बीसफुट्टा पुल के रास्ते आगे बढ़ रहे थे. सभी को रेलवे ट्रेक के किनारे से होते हुए चेड़ाबार पुल के रास्ते गढ़वा निकलना था. शिवशंकर राम और नंदलाल सिंह गढवा के न्यायालय में अधिवक्ता हैं. अधिवक्ता शिवशंकर राम और नंदलाल कुमार रिश्ते में मामा-भांजा हैं.

इसे भी पढ़ेः रात में सुनसान जगहों पर जायेंगी लड़कियां तो सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस की नहीं: डीजीपी

इसी क्रम में बीसफुटा के पास एक मालगड़ी पार करने लगी. तीनों वहां पर रूक गए. अधिवक्ता शिवशंकर राम और नंदलाल सिंह वहां पर लघुशंका करने लगे, तभी नंदलाल कुमार मोटरसाइकिल को आगे की ओर ले जाने लगा. इसी क्रम में नंदलाल ट्रेन की चपेट में आ गया. भांजा को घायल देख शिवशंकर राम उसे बचाने गए. उन्हें भी बचाने के क्रम में ट्रेन से झटका लगा. इससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गये.

इसे भी पढ़ेः लालू ने जमानत मांगी, अगर मंजूर हुई तो निकल जायेंगे जेल से बाहर

advt

अधिवक्ता नंदलाल सिंह ने वहां पर मौजूद अन्य लोगों की मदद से दोनों को इलाज के लिए मेदिनीनगर सदर अस्पताल में लाया, जहां चिकित्सक ने नंदलाल कुमार को मृत घोषित कर दिया. वहीं शिवशंकर राम का इलाज चल रहा है. शिवशंकर राम के पैर व पीठ में चोटें आई है. शिवशंकर राम हेलमेट पहने हुए थे, इसी कारण उनकी जान बच गयी. घटना की सूचना मिलने पर मेदिनीनगर शहर थाना पुलिस ने मृतक के परिजनों का बयान लिया. साथ ही पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया.

इसे भी पढ़ेः ज्यादा से ज्यादा रोजगार सृजन पर ध्यान दे रही है सरकारः हेमंत सोरेन

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: