JharkhandPalamu

Palamu : कोविड-19 डिग्निटी टास्क फोर्स का गठन, खुलेगा परामर्श केंद्र, पॉजिटिव से निगेटिव हुए लोगों की होगी काउंसिलिंग

Palamu : स्वास्थ्यकर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर्स एवं प्रवासी मजदूरों से बढ़ रहे भेदभाव को लेकर आज कोविड-19 डिग्निटी टास्क फोर्स की बैठक हुई. बैठक में भ्रांतियों को दूर करने के लिए आइईसी की मदद से प्रचार-प्रसार करने का निर्णय लिया गया. साथ ही मेदिनीनगर सदर अस्पताल में परामर्श केंद्र खोलने और पॉजिटिव से निगेटिव हुए लोगों की काउंसिलिंग करने का निर्णय लिया गया.

बैठक की अध्यक्षता जिले के उपायुक्त डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने की. बैठक में कोविड-19 के दौरान स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर्स एवं प्रवासी मजदूरों से बढ़ रहे भेदभाव को रोकने की समीक्षा की गयी. जिला स्तरीय कोविड-19 डिग्निटी टास्क फोर्स के सफल संचालन के लिए डॉ प्रवीण सिद्धार्थ को नोडल पदाधिकारी नामित किया गया. वहीं जिला समाज कल्याण पदाधिकारी आफताब आलम वरीय पदाधिकारी के रूप में कार्य करेंगे.

इसे भी पढ़ें – रांचीः कोर्ट की सुनवाई के दौरान ये क्या हुआ!!!

बैठक में कोविड-19 से संबंधित भेदभाव की शिकायत दर्ज कराने के लिए जिला कंट्रोल रूम का नंबर 06562-222077 जारी किया गया. दिये गये नंबर पर स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर्स तथा प्रवासी मजदूर अपने साथ हो रहे भेदभाव की शिकायत दर्ज करा सकेंगे.

उपायुक्त ने फ्रंटलाइन वर्कर, स्वास्थ्य कर्मियों, प्रवासी मजदूरों, मीडिया कर्मियों, कोरोना संक्रमित मरीजों उनके परिजनों एवं स्वस्थ हो चुके व्यक्ति और उनके परिजनों के साथ होनेवाले भेदभाव को रोकने के लिए सदर अस्पताल में परामर्श केंद्र खोलने का निर्देश दिया. परामर्श केंद्र में कोरोना पॉजिटिव से नेगेटिव हुए लोगों की काउंसलिंग की जायेगी. परामर्श केंद्र के सफल संचालन हेतु डॉक्टर सुनील को नामित किया गया.

इसे भी पढ़ें –सीएम हेमंत सोरेन व उनकी पत्नी की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव 

आइईसी गतिविधियों से होगा प्रचार प्रसार

उपायुक्त ने कोविड-19 प्रभावित इलाकों कंटेनमेंट जोन में भ्रांतियों को दूर करने तथा प्रभावित व्यक्ति एवं उनके परिजनों का मनोबल बढ़ाने हेतु आइईसी गतिविधि एवं परामर्श कार्यक्रम चलाने पर जोर दिया. अभियान के प्रचार प्रसार के लिए एनसीसी नेहरू युवा केंद्र एवं स्काउट एंड गाइड के वॉलिंटियर्स का सहयोग लिया जायेगा तथा विभिन्न चौक चौराहों, स्वास्थ्य केंद्रों एवं अन्य स्थान पर आइईसी के तहत बनाये गये लीफलेट सहियाओं के द्वारा लोगों के बीच वितरित किये जायेंगे.

बैठक में उपायुक्त के अलावा उप विकास आयुक्त बिंदु माधव प्रसाद सिंह, जिला परिषद अध्यक्ष प्रभादेवी, सिविल सर्जन डॉक्टर जॉन एफ केनेडी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी आनंद, जिला शिक्षा पदाधिकारी उपेंद्र नारायण, स्वास्थ्य विभाग के डीपीएस दीपक सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें – बिना फेस मास्क गाड़ी चलाने पर ड्राइविंग लाइसेंस किया जाएगा सस्पेंड, जुर्माना भी लगेगा

One Comment

  1. 40577 900101Thank you a whole lot for sharing this with all people you truly recognize what youre speaking about! Bookmarked. Please in addition talk more than with my web website =). We could have a hyperlink alternate arrangement among us! 592450

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button