Jharkhand Vidhansabha Election

#Palamu: झारखंड के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को ज्ञापन सौंपने के बाद केएन त्रिपाठी दिल्ली रवाना, चुनाव आयोग के समक्ष रखेंगे अपनी बात

विज्ञापन

Palamu: डालटनगंज विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी सोमवार को दिल्ली रवाना हो गये. वे मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा से मुलाकात कर ज्ञापन के माध्यम से उनके समक्ष अपनी बात रखेंगे.

दिल्ली रवाना होने पहले श्री त्रिपाठी रांची में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे से भी मिले और उन्हें भी ज्ञापन सौंप कर न्याय की गुहार लगायी.

इसे भी पढ़ें – #Saraikela: पुलिस ने ग्रामीण को ही मार कर कहीं नक्सली तो नहीं बता दिया था! अब कर रही है जांच

advt

पलामू में 20 घंटे तक धरना देने पर नहीं हुई कोई कार्रवाई 

पलामू समाहरणालय परिसर में करीब 20 घंटे तक धरना पर बैठने के बावजूद जब श्री त्रिपाठी की मांग पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो वे अपनी लड़ाई दिल्ली ले जाने का निर्णय लिया.

श्री त्रिपाठी ने कहा कि अगर उन्हें भारत निर्वाचन आयोग से भी न्याय नहीं मिला तो वे अदालत का दरवाजा खटखटाने से भी पीछे नहीं हटेंगे.

श्री त्रिपाठी चैनपुर प्रखंड क्षेत्र के कुछ बूथों पर पुनर्मतदान की मांग पर अड़े हैं. उनका आरोप है कि इन बूथों पर भाजपा प्रत्याशी के समर्थकों का कब्जा रहा. श्री त्रिपाठी ने भाजपा समर्थकों के द्वारा जानलेवा हमला करने का भी आरोप लगया गया है.

इसे भी पढ़ें – #CRISIL ने चालू वित्त वर्ष में #GDP वृद्धि का अनुमान 6.3 से घटाकर 5.1 प्रतिशत किया

adv

क्या हुआ मतदान के दिन

श्री त्रिपाठी की मानें तो उन्हें 30 नवंबर को सूचना मिली कि चैनपुर थाना क्षेत्र के कोशियारा स्थित बूथ संख्या 72 और 73 पर भाजपा प्रत्याशी आलोक चौरसिया के समर्थकों ने कब्जा कर लिया है.

स्थिति की सत्यता जानने और बूथों का अवलोकन करने जब वे वहां पहुंचे तो उन्हें भाजपा समर्थकों ने बूथ के भीतर जाने नहीं दिया और हमला कर दिया.

उनकी गाड़ी और उन पर पथराव किया गया. श्री त्रिपाठी का कहना है कि उन्हें आत्मरक्षार्थ अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकालनी पड़ी और बुलेट प्रूफ गाड़ी पर बैठ कर भागना पड़ा.

हालांकि भाजपा प्रत्याशी आलोक चौरसिया ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है. श्री चौरसिया का कहना है कि श्री त्रिपाठी हथियार दिखा कर चुनाव को प्रभावित कर रहे थे.

पीठासीन पदाधिकारी और केएन त्रिपाठी ने दर्ज करायी है प्राथमिकी 

इस बीच बूथ संख्या 73 के पीठासीन अधिकारी ने श्री त्रिपाठी के खिलाफ चैनपुर थाना में प्रथमिकी दर्ज करायी है. प्राथमिकी में कांग्रेस प्रत्याशी पर चुनाव में व्यवधान डालने का आरोप लगाया गया है.

इधर, श्री त्रिपाठी ने भी भाजपा प्रत्याशी आलोक चौरसिया और कोशियारा गांव के उनके 12 समर्थकों पर जानलेवा हमला करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है.

इसे भी पढ़ें – #BJP ने आदिवासियों की जमीन छीन उद्योगपतियों को दी, मगर किसानों का कर्ज माफ नहीं: राहुल गांधी

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button