न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : जनता दरबार हुआ फ्लॉप,नहीं पहुंचे फरियादी,अधिकारियों की कुर्सियां रही भरीं

66

Palamu : ग्रामीणों और आम लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिले इसे लेकर महीने में एक बार जनता दरबार का आयोजन किया जाता है. जनता दरबार में लाभुकों के मामलों का तुरंत निपटारा करने का स्पष्ट निर्देश दिया जाता है.

पदाधिकारी लाभुकों के आने का बेसब्री से इंतजार करते देखते रहें

बुधवार को जिला मुख्यालय सदर प्रखंड परिसर में जनता दरबार लगा तो जरूर, लेकिन उचित प्रचार-प्रसार के अभाव में फरियादी नहीं पहुंचे. पदाधिकारियों को छोड़कर ग्रामीण क्षेत्रों से एक भी लाभुक नहीं पहुंच सके. पदाधिकारी लाभुकों के आने का बेसब्री से इंतजार करते देखते रहें. अंत में दो घंटों की मशक्कत के बाद जो तीन-चार लाभुक आये, उनके ही आवेदन लेकर जनता दरबार का समापन कर दिया गया. प्रखंड परिसर के बाहर सरकारी तामझाम के साथ लगायी गयी कुर्सियां खाली रही. इससे पूर्व जनता दरबार का उद्घाटन सदर सीओ और प्रखंड प्रमुख रीमा देवी ने संयुक्त रूप से किया. हालांकि खाली पड़ी कुर्सियों को देख कर सीओ ने भी अपनी नाराजगी प्रकट की.

प्रखंड के कर्मचारियों के कारण हुआ कार्यक्रम फेल

मौके पर मौजूद प्रमुख रीमा देवी ने जनता दरबार फ्लॉप होने का ठीकरा सदर प्रखंड के पदाधिकारियों को माथे पर फोड़ा. उन्होंने कहा कि जनता दरबार मात्र खानापूर्ति का साधन भर बन कर रह गया है. नियम के तहत जनता दरबार आयोजन से कम से कम तीन चार दिन पूर्व ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक तौर पर प्रचार-प्रसार करना है, लेकिन सदर प्रखंड प्रशासन जनता दरबार से पूर्व किसी भी प्रकार का प्रचार-प्रसार नहीं करता है. जिससे प्रखंड के विभिन्न पंचायतों के लोगों को जनता दरबार में पता नहीं होता है. मौके पर मेदिनीनगर ग्रामीण सीडीपीओ नीता चौहान, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी रवींद्र सिंह, ब्लॉक मैनेजर अभिषेक कुमार, जेपीएस रामकेश्वर राम, पंयायत समिति सदस्य सतीश कुमार तिवारी समेत अन्य मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: