JharkhandPalamu

पलामू: अयोग्य लोग कर दें राशन कार्ड सरेंडर, नहीं तो होगी कार्रवाई: खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव

विज्ञापन

Palamu :  राज्य के वित्त सह खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए सरकार कटिबद्ध है. उन्होंने कहा कि इस महामारी के चलते लागू लॉकडाउन के बीच खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा राज्य में कई दाल भात केंद्रों का संचालन किया जा रहा है, जहां प्रतिदिन बड़ी संख्या में राज्य के गरीब एवं असहाय लोगों को भोजन करवाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः शनिवार को परिवार के साथ कोलकाता से लौटा था घर, रविवार को आई रिपोर्ट तो गांव में हड़कंप

उन्होंने कहा कि राज्य के प्रत्येक व्यक्ति तक भोजन पहुंचाना हमारा लक्ष्य है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल के इस दौर में राज्य में जीवन व जीविका दोनों को साथ साथ चलाना है. कोरोना महामारी से निजात पाने के पश्चात राज्य में विकास को और गति प्रदान की जाएगी. खाद्य आपूर्ति मंत्री रविवार को मेदिनीनगर के परिसदन भवन में संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे.

इसे भी पढ़ेंः झारखंड में राजनीतिक दल कोरोना काल में कार्यकर्ता और जनता के पास आने आने के लिए तलाश रहे नये डिजिटल प्लेटफॉर्म्स

राशन उठाव नहीं करने वालों का कार्ड होगा रद्द

मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि वैसे लाभुक जो राशन कार्ड के पात्रता नहीं रखते हैं और उनका किसी कारणवश कार्ड निर्गत हो गया है, वैसे लोग हर हाल में अपना राशन कार्ड सरेंडर करना सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं करने पर जांच में पकड़े जाने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. कई कार्डधारियों ने राशन कार्ड बनने के बाद लंबे समय से राशन का उठाव नहीं किया है. ऐसे सभी कार्डो को रद्द करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

अहर्ता रखने वाले सभी को निर्गत होगा कार्ड  

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा सर्वे कराया जा रहा है. अहर्ता रखने वाले ऐसे सभी लोगों को सरकार राशन कार्ड निर्गत करने हेतु प्रतिबद्ध है. उन्होंने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि राशन वितरण व्यवस्था को दुरुस्त करने हेतु सरकार कृत संकल्पित है.

बताया कि विभाग द्वारा सैकड़ों राशन डीलरों पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की गई है. उन्होंने कहा कि राशन वितरण का लाभ शत-प्रतिशत लाभुकों को मिले इसके लिए विभाग प्रयासरत है. उन्होंने कहा कि सरकार दस लाख गरीब  परिवारों को राशन कार्ड से जोड़ने हेतु प्रयासरत है. सरकार विभिन्न विभागों में रिक्त पड़े पदों पर पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों की नियुक्ति करने हेतु कटिबद्ध है.

adv

इसे भी पढ़ेंः सुशांत सिंह राजपूत से पहले ये एक्टर भी कर चुके हैं खुदकुशी

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button