JharkhandLead NewsPalamu

पलामू: जिला परिषद से आवंटित दुकान पर 10 माह से है अवैध कब्जा, न्याय के लिए भटक रहा है दिव्यांग

Palamu : पलामू जिले के तरहसी प्रखंड मुख्यालय में जिला परिषद से दिव्यांग आशीष कुमार गुप्ता को आवंटित दुकान पर अवैध कब्जा कर लिया गया है. पिछले दस महीने से उक्त दुकान पर दिलीप पांडे नामक व्यक्ति अवैध कब्जा कर रखा है. मामले को लटकाने के लिए व्यवहार न्यायालय में ओरिजनल सूट दायर कर दिया गया है. नतीजा प्रखंड प्रशासन दुकान से कब्जा हटाने में अपनी असमर्थता जता रहा है. इससे करीब 70 प्रतिशत दिव्यांग आशीष परेशान है और लगातार दुकान को कब्जा मुक्त करने के लिए गुहार लगा रहा है.

दिव्यांग आशीष ने इस सिलसिले में कई बार जिले के उपविकास आयुक्त सह जिला परिषद के मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी को पत्र लिखा है.

इसे भी पढ़ें:रामगढ़ एसडीपीओ किशोर कुमार रजक की पत्नी ने पति पर लगाया घरेलू हिंसा का आरोप

हाल में लिखे गए पत्र में आशीष ने कहा है कि जिला परिषद की 11 नंबर की दुकान उसके नाम से आवंटित है, लेकिन पिछले दस माह से दिलीप पांडे नामक व्यक्ति उस पर अवैध कब्जा कर रखा है.

दिलीप पांडे को 12 नंबर की दुकान आवंटित है, लेकिन उसने 11 नंबर पर भी ताला लगा रखा है. दिव्यांग ने कहा है कि दुकान का नम्बर भी मिटा दिया गया है. दस के बाद सीधे 13 नंबर की दुकान दिखती है.

दिव्यांग आशीष ने कहा है कि डीडीसी के द्वारा दुकान खाली कराने से संबंधित पत्रांक 198 दिनांक 16.3.2021 के तहत पत्र लिखकर अंचल पदाधिकारी तरहसी को निर्देशित किया गया था, लेकिन अबतक उनके द्वारा दुकान खाली नहीं कराया गया है.

इसे भी पढ़ें:बार कांउसिल ने तीन जिलों के नोटरी पब्लिक को किया शो कॉउज, गलत तरीके से करते थे एफिडेविट जारी

अंचलाधिकारी द्वारा बताया जा रहा है कि दुकान पर टाइटल सूट लगा हुआ है. इस कारण मामले में कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती है.

आशीष ने कहा है कि टाइटल सूट का कागजात दिखाकर कार्रवाई के लिए बहाना बनाया जा रहा है. दुकान पर स्टे ऑडर से संबंधित कोर्ट के द्वारा ऐसा कोई आदेश निर्गत नहीं है. दिव्यांग आशीष ने प्रशिक्षु आइएएस अधिकारी से मामले की जांच करा कर दुकान खाली कराने की गुहार लगायी है.

इधर तरहसी के अंचलाधिकारी केदारनाथ सिंह ने बताया कि मामला पलामू सिविल कोर्ट में है. इस कारण कार्रवाई नहीं की जा रही है. कोर्ट के आदेश के बाद संबंधित कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : अब हर साल 23 जनवरी से होगी गणतंत्र दिवस समारोह की शुरुआत, जानें क्यों बदली गई तारीख

Advt

Related Articles

Back to top button