JharkhandPalamu

पलामू: अमानत, दुर्गावती, औरंगा नदियों में आयी बाढ़ से फ्रेट कॉरिडोर बना रही कंपनी को भारी नुकसान

डूब गयी लाखों की मशीनरी और सामग्री

Palamu: पलामू जिले में पिछले 48 घंटे से हो रही भारी बारिश से छोटी बड़ी सभी नदियां उफान पर हैं. इस बीच अमानत, दुर्गावती और औरंगा नदी में आयी बाढ़ से धनबाद रेल मंडल के गढ़वा रोड से बरवाडीह तक फ्रेट कॉरिडोर (तीसरी लाइन) बिछा रही कंपनी को भारी नुकसान पहुंचा है.

नदी में अचानक तेज बहाव के कारण कंपनी को करोड़ों का नुकसान हुआ है. निर्माण कार्य में लगायी गयी मशीनरी व सामग्री नदी में अचानक आई बाढ़ में या तो डुब गई या बह गई हैं. कंपनी के बेस कैंप में पानी भर गया है.

इसे भी पढ़ें :तीरंदाजी में विश्व चैंपियन और ओलंपिक के लिए चयनित दीपिका को राज्य सरकार देगी 50 लाख

advt

छोटी बड़ी नदियों पर हो रहा है पुल का निर्माण

थर्ड लाइन का निर्माण कार्य जोरों पर चल रहा है. छोटी बड़ी नदियों पर पुल पुलिया का भी निर्माण कार्य कराया जा रहा है. जहां करोड़ों रुपए की मशीनरी लगाई गई है.

अचानक तेज बारिश के कारण नदी में आई बहाव में निर्माण कार्य में लगी मशीनरी बह गई या तो नदी में डूब गई. जब तक नदी में बारिश कम नहीं होती, तब तक कुछ भी कह पाना ठीक नहीं.

कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर सुधीर कुमार शुक्ला ने बताया कि वैश्विक महामारी कोविड-19 से कार्य काफी प्रभावित हुए थे. उससे निजात पाकर कार्यों को गति दी गई थी. इसी बीच अचानक शुरू हुई बारिश से कंपनी को भारी आर्थिक नुकसान हुआ है. धनबाद रेल मंडल के बरवाडीह-गढ़वा रोड की बीच निर्माण कार्य किया जा रहा है.

औरंगा, अमानत, दुर्गावती आदि छोटी बड़ी नदी नालों पर निर्माण कार्य चल रहा है. सभी जगहों पर निर्माण कार्य को गति देने के लिए लाखों रुपए की सामग्री व मशीनरी स्थल पर लगाए गए हैं.

पिछले 2 दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश में नदी में अचानक पानी उतर आए जिसके कारण निर्माण कार्य में लगे मशीनरी को हटाना संभव नहीं था. ऐसे में नदी में ये मशीनें डूब गई या बह गई. इससे कंपनी को करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ.

इसे भी पढ़ें :मोदी कैबिनेट से बाहर किये गये आसनसोल के MP बाबुल सप्रियो ने पॉलिटिक्स को कहा GOOD BYE

इन सामग्रियों और मशीनों को पहुंचा नुकसान

निर्माण कार्य को लेकर अलग अलग साइड पर लगभग 16 सौ बैग सीमेंट सहित अन्य निर्माण सामग्री पड़ी हुई थी, जो बर्बाद हो गई. वही निर्माण कार्य में लगी मशीनरी व टूल्स में शटरिंग प्लेट, सपोर्टर, लाइनर प्लेट, विंच मशीन, 80केवी का डीजी, वाटर टैंकर, डिवाटरिंग पंप सहित कई उपकरण या तो बह गए या डुब गए हैं.

इसे भी पढ़ें :एकलपीठ के आदेश के खिलाफ दाखिल की अपील, जेपीएससी ने कहा, मेरिट लिस्ट में कोई गड़बड़ी नहीं

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: