न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

पलामू : स्वास्थ्यकर्मियों को 14 माह से मानदेय नहीं मिला, हड़ताल पर गये, स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरायी

पलामू जिले के चैनपुर प्रखंड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आउटसोर्सिंग के तहत कार्यरत स्वास्थ्यकर्मी शनिवार से हड़ताल पर चले गये.

35

Palamu :  पलामू जिले के चैनपुर प्रखंड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आउटसोर्सिंग के तहत कार्यरत स्वास्थ्यकर्मी शनिवार से हड़ताल पर चले गये. इससे प्रखंड की स्वास्थ्य व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है.  बता लें कि मैन पावर उपलब्ध कराने वाली रांची की कंपनी बालाजी डिटेक्टीव फोर्स द्वारा चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आउटसोर्सिंग के तहत कई स्वास्थ्यकर्मी 2016 से ही उपलब्ध कराये गये है.

eidbanner

स्वास्थ्यकर्मियों का आरोप है कि पिछले 14 महीने से उन्हें मानदेय का भुगतान कंपनी की ओर से नहीं किया गया है. स्वास्थ्यकर्मियों का कहना है कि मानदेय का भुगतान नहीं होने से उनके और उनके परिवार के समक्ष भुखमरी की नौबत आ गयी है.  इसके अलावा बच्चों की पढ़ाई-लिखाई भी बाधित हो रही है.

इसे भी पढ़ें – ऑनलाइन म्यूटेशन सिस्टम के बाद भी 37500 मामले लंबित, सेवा देने की गारंटी नियमावली 2011 में शामिल है दाखिल खारिज

उपायुक्त से आग्रह के बाद भी नहीं मिला मानदेय

पिछले दिनों आउटसोर्सिंग स्वास्थ्यकर्मियों ने जिले के उपायुक्त को ज्ञापन सौंपकर अपनी व्यथा से अवगत कराया था. कर्मियों ने ज्ञापन में उल्लेख किया था कि अगर उनके लंबित मानदेय का भुगतान नहीं किया गया तो वे एक जून से हड़ताल पर चले जायेंगे. बावजूद उनकी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया गया.

इसे भी पढ़ें – झारखंड : पिछले तीन सालों में सब्जियों की उपज घटी, 3.54 से 149 मीट्रिक टन तक की गिरावट

चैनपुर में स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरायी

Related Posts

विधानसभा चुनाव : कांग्रेस और जेएमएम ने बनायी विशेष रणनीति, स्थानीय मुद्दों पर रहेगा जोर 

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद आगामी विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन के घटक दलों ने सांगठनिक मजबूती पर काम शुरू कर दिया है.

आज पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में कार्यरत आउटसोर्सिंग स्वास्थ्यकर्मी हड़ताल पर चले गये. उन्होंने स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में प्रदर्शन भी किया.  इससे स्वास्थ्य व्यवस्था प्रभावित हुई है.  कर्मियों के अभाव में मरीजों को उनके परिजनों ने  किसी तरह एक वार्ड से दूसरे वार्ड में शिफ्ट किया और इलाज के लिए बाहर ले गये.

कौन-कौन हैं हड़ताल पर

हड़ताल पर जाने वालों में एस कुमार, अब्बास आलम, अब्दुल मोसिद खान, धनंजय कुमार, कामनी देवी, जसीम अंसारी, कुंती देवी, रमेश पाल, मालती देवी, शीतलमणि देवी, नवल किशोर, दिलीप कुमार यादव, सिंधू देवी, महेन्द्र कुमार यादव, ललिता देवी, सुजीत कुमार,

अम्बिया खातून, संतोष कुमार, आफताब आलम, शामदेव राम, सुनील कुमार, आफताब आलम, रामदेव राम, सुनील कुमार, प्रियंका कुमारी, पंकज कुमार चन्द्रवंशी, सोमनाथ कुमार, सत्यजीत कुमार, फहद अंसारी, रिंकू सिंह और शंकर कुमार प्रमुख हैं.

इसे भी पढ़ें – NEWS WING IMPACT: DC रांची ने बनायी पूर्व DGP डीके पांडेय की पत्नी की जमीन जांचने के लिए कमेटी, मंत्री ने कहा-कोई भी हो कानून से ऊपर नहीं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: