न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

पलामू : सारे चापाकल हैं खराब, एक कुएं पर बुझती है पूरे बलिया गांव की प्यास

821

Palamu : पलामू जिले में पड़ रही भीषण गर्मी के कारण पेयजल संकट बरकरार है. जिला मुख्यालय मेदिनीनगर से लेकर गांव-गांव में पेयजल के लिए लोग परेशान हैं. किसी तरह नाले और कुएं का पानी पीकर जीवन बचाए हुए हैं. जिला मुख्यालय मेदिनीनगर से सटे चैनपुर के बलिया गांव में तो पेयजल को लिए त्राहिमाम मचा है.

eidbanner

पानी के लिए लोग पानी-पानी हो रहे हैं. गांव में एक ही कुआं है, जिसके सहारे दर्जनों घरों की प्यास बुझ रही है. सुबह से ही इस कुएं के पास ग्रामीणों की भीड़ जमा हो जाती है. कुएं का मुंह खुला रहने के कारण इसका पानी प्रदूषित है. पानी पीने से बीमारी फैलाने की भी संभावना है.

गांव में जितने भी चापाकल हैं सभी मामूली खराबी के कारण बिगड़े पड़े हैं. अनुसूचित जाति के लोग इस गांव में रहते हैं. सभी लोग काफी गरीब हैं. स्थानीय जनप्रतिनिधियों को कई बार चापाकल बनाने की शिकायत करने के बाद भी जब चापाकल दुरुस्त नहीं हुए तो ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जिला परिषद उपाध्यक्ष संजय कुमार सिंह से की.

जिसके बाद जिप उपाध्यक्ष ग्रामीणों से मिले व समस्या को लेकर विभागीय अधिकारियों से बात की. जिप उपाध्यक्ष ने गांव में पेयजल का ठोस प्रबंध करने का निर्देश संबंधित विभाग को दिया है.

इसे भी पढ़ें- दर्द-ए-पारा शिक्षक: फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की नौकरी छोड़ बने पारा शिक्षक, अब मानदेय के अभाव में बने…

चापाकलों की आर-आर पाइप खराब

जिले में जितने भी जितने भी चापाकल हैं, उनकी आर-आर पाइप खराब है, उसे बदलने के लिए टेंडर हो चुका है, परंतु विभागीय लापरवाही के कारण अभी तक पाइपों को नहीं बदला जा सका है. इस कारण पेयजल की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है. पानी के लिए मारामारी मची हुई है.

पेयजल की जल्द की जाए व्यवस्था : जिप उपाध्यक्ष

मौके पर ही जिप उपाध्यक्ष ने पेयजल आपूर्ति विभाग के अभियंता से बात की और तुरंत बिगड़े पड़े चापाकलों को दुरुस्त करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि पेयजल की समस्या से ग्रामीणों को निजात दिलाना हम सही का दायित्व है.

गर्मी में लोगों को पेयजल की समस्या से मुक्ति मिले, इसके लिए जल्द से जल्द काम किया जाए और पानी की व्यवस्था की जाए. उन्होंने कहा कि स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है.

इसे भी पढ़ेंःसाल के अंत तक अनुसूचित जाति/जनजाति के 20 लाख लोगों को पाइपलाइन से मिलेगा पानी

अन्य समस्याओं को भी ग्रामीणों ने रखा

ग्रामीणों ने जिप उपाध्यक्ष से वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिलने की भी शिकायत की. उन्होंने इसके लिए भी संबंधित विभाग के अधिकारियों से बात की और वृद्धावस्था पेंशन में हो रही समस्याओं को दूर करने का निर्देश दिया.

इस मौके पर रामजनम यादव, बिरजा सिंह, दशरथ भुईयां, कैलू भुईया, बसंत भुइयां, संजय राम, राजीव रंजन यादव, शंकर यादव, विनोद कुमार साहू, हरि यादव समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: