JharkhandPalamu

पलामू: ग्रामीण बैंक ने ऋण चुकता करने के बाद भी समूह की महिलाओं को थमाया नोटिस

विज्ञापन

Palamu: पलामू जिले के पांकी प्रखंड के सगालीम स्थित झारखंड राज्य ग्रामीण बैंक शाखा की एक बार फिर लापरवाही सामने आयी है. ऋण चुकता करने के बाद भी बैंक ने लोगों को नोटिस भेजा है जिससे बैंक की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े होने लगे हैं.

दरअसल, सगालीम गांव में संचालित संयुक्त महिला विकास समूह की महिलाओं ने व्यवसाय करने के लिए झारखंड राज्य ग्रामीण बैंक शाखा, सगालीम से 25 हजार का ऋण लिया था. इसमें 10 हजार अनुदान था. समूह द्वारा ऋण का चुकता कर दिया गया. इसके बाद भी बैंक ने फिर से ऋण चुकता करने के लिए समूह को नोटिस भेजा है.

नोटिस पाकर समूह की महिलाएं घबरा गयी हैं. समूह की दर्जनभर महिलाओं ने बैंक शाखा पहुंचकर मामले की शिकायत प्रबंधक से की. संयुक्त महिला विकास समूह की झालो देवी, रामवती देवी, कमला देवी, रीता देवी, सविता देवी, मीना देवी, उर्मिला देवी आदि ने बताया कि हम लोग पहले ही ऋण चुकता कर चुके हैं, जिसका प्रमाण भी है. बैंककर्मियों ने पासबुक में खुद नोड्यूज लिखा. इसके बावजूद ऋण चुकता करने के लिए बैंक ने नोटिस भेजा है.

इसे भी पढ़ें – विरोध के बावजूद नहीं बदला गया अमेरिका के ‘स्वस्तिक’ गांव का नाम

बैंक की लापरवाही खुलकर सामने आयी

समूह की महिलाओं ने बताया कि वे लोग अत्यधिक गरीब परिवार से हैं. दोबारा से ऋण चुकता करना मुश्किल है. ग्रामीणों कहना है कि आखिर बैंक द्वारा कब तक लापरवाही और धांधली बरती जायेगी. बता दें कि कुछ दिन पूर्व इसी बैंक से मुर्दे के नाम पैसे निकासी किए जाने का भी मामला सामने आया था. यह मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि एक बार फिर बैंक की लापरवाही खुलकर सामने आयी है.

इस संबंध में पूछे जाने पर बैंक प्रबंधक दीपक कुमार ने बताया कि समूह की महिलाओं द्वारा शिकायत के बाद मामले की जांच के लिए क्षेत्रीय बैंक प्रबंधक को पत्र लिखा गया है. बहुत जल्द मामले का समाधान कर लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – राज्य में 23611 शिक्षकों के पद रिक्त, प्राथमिक स्कूलों में सर्वाधिक 12 हजार पद

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button