JharkhandPalamu

Palamu : पूर्व नक्सली ने डूबते बच्चे को बचाया, पर खुद डूब गया, दो घंटे बाद बाद मिला शव

विज्ञापन

Palamu : नक्सलियों की छवि अक्सर हिंसक और जान लेनेवाले के रूप में होती है, लेकिन नक्सली संगठन से मुख्यधारा में लौटे एक पूर्व नक्सली ने एक डूबते बच्चे को नया जीवन देने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी. बच्चे को तो किसी तरह बचा लिया, लेकिन इस क्रम में उसकी जान चली गयी. घटना के दो घंटे बाद पूर्व नक्सली का शव डैम से बरामद किया गया. घटना से गांव में मातम पसरा है. हर कोई बच्चे के बचने पर पूर्व नक्सली की प्रशंसा कर रहा है.

जिले में पांडू प्रखंड के रतनाग में पूर्व नक्सली भीम सिंह ने अपनी जान देकर एक मासूम बच्चे की जिंदगी बचायी है. पांडू के रतनाग बनवाही डैम में डूब रहे बच्चे को पूर्व नक्सली भीम सिंह ने बचा लिया, लेकिन वह खुद डूब गया. काफी मशक्कत के बाद उसका शव डैम से दो घंटे बाद बरामद किया गया.

इसे भी पढ़ें – गलत नियोजन नीति की वजह से JSCC की ग्रेजुएट लेवल समेत थर्ड और फोर्थ ग्रेड की नियुक्तियों पर पड़ेगा असर

advt

बच्चे को डूबता देख कूद गया डैम में

गांव के पांच लोगों के साथ पूर्व नक्सली बनवाही डैम में मछली पकड़ने के लिए गया था. इस दौरान एक बच्चा (सोनू चौधरी) डैम में डूबने लगा. उसे डूबता देख भीम सिंह डैम में कूद गया. बच्चे की जान बच गयी, लेकिन भीम सिंह डैम में डूब गया.

भीम सिंह के डैम में डूबने के बाद काफी खोजबीन की गयी. ग्रामीणों ने दो घंटे बाद शव को खोज निकाला. घटना की जनकारी मिलते ही बीडीओ जितराय मुर्मू व थाना के एसआइ बालदेव सिंह दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है.

इसे भी पढ़ें – रांची SSP हुए कोरोना पॉजिटिव, राज्य में अबतक 4645 से अधिक पुलिसकर्मी हो चुके हैं संक्रमित

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button