न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: सीडीपीओ एवं पर्यवेक्षिका के साथ पूर्व मुखिया ने किया दुर्व्यवहार

57

Palamu: पलामू जिला मुख्यालय से सटे चैनपुर थाना क्षेत्र के शाहपुर (नई मोहल्ला) स्थित उर्दू लाइब्रेरी भवन गुरुवार को सेविका चयन के दौरान रणक्षेत्र में तब्दील नजर आया. शाहपुर उतरी पंचायत के पूर्व मुखिया इबरार रिजवी ने एक आवेदक का पक्ष लेते हुए चैनपुर की बाल विकास परियोजना पदाधिकारी और पर्यवेक्षिका के साथ ना सिर्फ धक्का-मुक्की की, बाल्कि काफी देर तक बंधक बनाए रखा. मोबाइल छीन लिया और सरकारी कागजात लूट लिये.

सेविका का चुनाव हो रहा था

जानकारी के अनुसार सेविका पद के लिए ग्राम सभा कर चुनाव प्रक्रिया की जा रही थी. चुनाव के दौरान सीडीपीओ मधुलता सिन्हा एवं महिला पर्यवेक्षिका शालिनी बोराल सहित नगर परिषद सदस्य प्रमिला देवी तथा चैनपुर पुलिस की मौजूदगी में आंगनवाड़ी सेविका के पद का चुनाव किया जा रहा था. इसके लिए दो आवेदन आये थे.


इसमें पूर्व मुखिया इबरार रिजवी तथा उनके भाई इसरार रिजवी (दोनों पिता इब्राहिम रिजवी ) एक आवेदक जैनब की पैरवी करते हुए हंगामा करने लगे. दूसरी आवेदक सुल्ताना की तरफ से भी हंगामा होने के बाद ग्राम सभा को रद्द करते हुए जब सीडीपीओ सहित अन्य लोग अपने सरकारी वाहन से जाने लगे, तभी मुखिया व उसके भाई ने जबरन सरकारी गाड़ी की चाबी लूट ली एवं पर्यवेक्षिका शालिनी के साथ हाथापाई करने लगे. उनके हाथ को मरोड़ कर कागजात, मोबाइल एवं बैग लूट लिये तथा सीडीपीओ के साथ भी अभद्र व्यवहार किया.

पुलिस ने मोबाइल और बैग वापस कराया

मौके पर उपस्थित पुलिसकर्मियों ने पर्यवेक्षिका का मोबाइल एवं बैग वापस कराया. लेकिन ग्राम सभा के कागजात वापस नहीं किये. किसी तरह वहां से निकलने के बाद थाना आकर दोनों के खिलाफ अभद्र व्यवहार करने, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने एवं जान मारने की धमकी की प्राथमिकी दर्ज करायी है. थाना प्रभारी सुनित कुमार ने बताया कि सीडीपीओ के बयान पर थाना में मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि किसी भी हाल में आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा. जल्द ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा.

इसे भी पढ़ें: कोका-कोला के वाइस प्रेसीडेंट बोले- रांची का ही हूं मैं, सीएम ने कहा- झारखंड के सूपत हैं, कर्ज उतारें

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: