न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : जेएफएमसी की बैठक में नहीं आये वन विभाग के अधिकारी, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

92

Palamu : लेस्लीगंज स्थित कुंदरी लाह बगान के संरक्षण और संबर्द्धन के लिए बनायी गयी संयुक्त वन प्रबंधन समिति की बैठक में भी वन विभाग के किसी अधिकारी ने हिस्सा नहीं लिया. इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने कुंदरी वन विभाग के चेकनाका के पास डालटनगंज-पांकी मुख्य मार्ग को जाम कर दिया. प्रदर्शनकारियों ने वन विभाग पर संयुक्त वन प्रबंधन समिति की अनदेखी का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की.

इसे भी पढ़ेंः29 को राजभवन के समक्ष धरना देंगे बिहार और झारखंड के ग्रामीण चिकित्सक

आज की जेएफएमसी की बैठक थी महत्‍वपूर्ण

गौरतलब है कि जेएफएमसी की पिछली कई बैठकों में वन विभाग के अधिकारी शामिल नहीं हो रहे थे. मंगलवार की बैठक को काफी निर्णायक माना जा रहा था. इसके लिए समिति के कई सदस्यों ने वन विभाग के अधिकारियों से बैठक में शामिल होने का आग्रह किया था, लेकिन वन विभाग के अधिकारियों ने इसे नजरअंदाज कर दिया. इससे ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा और उन्होंने सड़क जाम कर दिया. हालांकि बंद के दौरान स्कूली बच्चों, स्वास्थ्य सेवाओं और महिलाओं को कोई बाधा नहीं पहुंचायी गयी.

इसे भी पढ़ेंःउग्रवादी संगठन जेजेएमपी का सब जोनल कमांडर गिरफ्तार

नहीं पहुंचा कोई भी अधिकारी

प्रदर्शन में शामिल ऋद्धि-सिद्धि प्राथमिक लाह उत्पादक सहयोग समिति के सचिव कमलेश सिंह ने बताया कि चार घंटे तक सड़क जाम रहने के बावजूद न ही वन विभाग का कोई अधिकारी मौके पर पहुंचा और न ही जिला प्रशासन का. लेस्लीगंज के थाना प्रभारी वीरेन मिंज  जरूर मौके पर पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों की मांगों को जायज ठहराते हुए इस पर कार्रवाई का आाश्वासन दिया. इसके बाद ग्रामीणों ने सड़क जाम कार्यक्रम को स्थगित करने का फैसला किया. कमलेश सिंह एवं अन्य ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि वन विभाग तानाशाही रवैया अपना रहा है. कुंदरी लाह बगान को बर्बाद करने की साजिश की जा रही है. ग्रामीणों के संरक्षण एवं दोहन के अधिकार को समाप्त करने का षडयंत्र किया जा रहा है, जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःआम चुनाव 2019: खूंटी से अर्जुन मुंडा होंगे बीजेपी कैंडिडेट ? जमशेदपुर और खूंटी है भाजपा की सेफ सीट

तो उपायुक्त कार्यालय का घेराव

सिंह ने कहा कि अगर मंगलवार की शाम तक इस मसले पर उचित कार्रवाई नहीं हुई तो बुधवार को डालटनगंज स्थित उपायुक्त कार्यालय का घेराव किया जायेगा. उन्होंने कहा कि कुंदरी लाह बगान हमारी धरोहर है और इसे किसी भी कीमत पर बर्बाद नहीं होने दिया जायेगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: