न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: पांच लाख का इनामी माओवादी सब जोनल कमांडर गिरफ्तार

38

Palamu: नक्सलियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में पलामू पुलिस को एक बार फिर बड़ी सफलता मिली है. गुप्त सूचना के अधार पर प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सब-जोनल कमांडर और पांच लाख के इनामी मुखदेव यादव को छत्तरपुर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने शुक्रवार को पत्रकारों बताया कि गिरफ्तार सब-जोनल कमांडर मुखदेव यादव पांच लाख का इनामी नक्सली है. गुप्त सूचना मिली थी जोनल कमांडर मुखदेव छत्तरपुर के गुलाबझरी स्थित धोबीडीह में किसी घटना को अंजाम देने के लिए आने वाला है. सूचना पर एएसपी अभियान अरूण कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम बनायी गयी और कार्रवाई कर नक्सली कमांडर को गिरफ्तार किया किया.

मुखदेव यादव पर कई नक्‍सली मामलों में संलिप्‍ता का आरोप

इसकी गिरफ्तारी से पुलिस को नक्सलियों से संबंधित कई अहम सुराग मिले हैं. उन्होंने बताया कि मुखदेव यादव ने नक्सलियों के साथ मिलकर 2009 में नौडीहा थाना क्षेत्र के सरइडीह गांव में रंजीत कुमार सिंह के घर को विस्फोट कर उड़ाया और जलाया था. साथ ही घर के मालिक-मालकीन की हत्या भी की कर दी थी. साल 2009 नवम्बर में कुहकूह में लैंड माइंस विस्फोट करने की घटना में शामिल रहा था. साल 2012 में कधवन में सड़क निर्माण में लगे जेसीबी मशीन और ट्रैक्टर में आग लगा दी थी. 8 जनवरी 2016 को बिहार के औरंगाबाद जिला अंतर्गत ढिभरा थाना क्षेत्र में पुलिस पार्टी पर फायरिंग में गिरफ्तार नक्सली शामिल था.

9 से ज्‍यादा मामले दर्ज

उन्होंने बताया कि मुखदेव यादव पर छत्तरपुर, नौडीहा सहित जिले के कई थानों और बिहार राज्य के कई थानों में 9 से ज्यादा मामले दर्ज हैं. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार जोनल कमांडर अभिजीत यादव के दस्ता में कार्य कर चुका है. वह लगातार पलामू और बिहार के औरंगाबाद जिले में संगठन का विस्तार करने का काम करता था. उन्होंने बताया कि मुखदेव यादव ने छत्तरपुर-हरिहरगंज में 35 लोगों के नाम जारी किया है, जो उग्रवादियों को मदद करने का काम करते थे. पुलिस इन सबों से पूछताछ करेगी. नक्सली मुखदेव वर्ष 2005 में माओवादी नक्सली संगठन में शामिल हुआ था.

एसपी श्री माहथा ने बताया कि पलामू पुलिस उग्रवादियों के धरपकड़ के दिशा में लगातार सफलता हासिल कर रही है. इसे उग्रवादियों का हौसला पस्त हुआ है. उन्होंने कहा कि गिरफ्तारी टीम में अभियान एसपी अरूण कुमार सिंह, छत्तरपुर डीएसपी शंभु कुमार, सीआरपीएफ सहायक कमांडेंट रूपेश कुमार और थाना प्रभारी छत्तरपुर बासुदेव मुंडा शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: