न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Palamu: पिपरा बाजार में एके 47 से फायरिंग, माओवादियों ने की जेएमएम नेता की हत्या, एक फल विक्रेता की भी मौत

3,003

Palamu: बिहार के सीमावर्ती और नक्सल प्रभावित पलामू जिले के पिपरा बाजार में शनिवार की शाम एके 47 से कई राउंड फायरिंग हुई.

इस घटना में जेएमएम के प्रखंड अध्यक्ष एवं पिपरा प्रमुख संध्या देवी के पति मोहन गुप्ता की मौत हो जाने की सूचना है. कई अन्य लोगों को भी गोली लगी है. सभी की स्थित गंभीर बनी हुई है. घटना को बाइक सवार अपराधियों ने अंजाम दिया है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

हत्या का शक माओवादियों पर है. ग्रामीणों के अनुसार मोहन गुप्ता को एके 47 से 8-10 गोली मारी गयी. मोहन गुप्ता कई वर्षों से नक्सलियों के निशाने पर रहे थे. शनिवार की देर शाम पिपरा बाजार में मोहन गुप्ता घूम रहे थे.

मोहन गुप्ता फिलहाल जेएमएम में थे, लेकिन भाजपा में उन्हें शामिल होना था. सूत्रों का कहना है कि चुनाव में मोहन गुप्ता बीजेपी कैंडिडेट को मदद भी कर रहे थे.

मौके से पुलिस ने 9 खोखा बरामद किया है. घटना के बाद प्रभावित परिवार में चीख पुकार मच गयी है. पुलिस नक्सलियों के संभावित ठिकानों पर छापामारी तेज कर दी है.

मौके पर हुई मोहन गुप्ता की मौत

मौके पर ही मोहन गुप्ता की मौत हो गयी, जबकि फल व्यवसायी सूरज सोनी को इलाज के लिए लाने के दौरान मौत हो गयी. इस घटना में गंभीर गोलू कुमार और राज कुमार सोनी की स्थिति चिंताजनक बतायी गयी है. उन्हें इलाज के लिए मेदिनीनगर पीएमसीएच में भेजा गया है.

2012 से मोहन गुप्ता की हत्या की फिराक में थे नक्सली

घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है. 2012 में भी मोहन गुप्ता पर माओवादियों ने हमला किया था. उनकी कार को गोलियों से छलनी कर दिया गया था. नक्सलियों के खात्मा के लिए मोहन गुप्ता ने पिपरा थाना भवन बनवाया था. अक्सर नक्सली उनकी हत्या के प्रयास में रहते थे. आज उन्हें सफलता मिली.

Related Posts

अर्द्धनिर्मित मकान से मिले दो युवकों के शवों की हुई शिनाख्त, कोयला लदा ट्रक लूटने के बाद की गयी थी हत्या

चान्हो थाना के तरंगा सड़क के किनारे एक अर्द्धनिर्मित मकान से मंगलवार को बरामद दो युवकों के शवों की शिनाख्त हो गयी.मृतक युवकों की पहचान लातेहार जिले के बालूमाथ के बसिया निवासी दीप नारायण महतो और उसके साथी पिंटू उर्फ विजय लोहरा के रूप में हुई है.

चाय पी रहे थे मोहन गुप्ता

मोहन गुप्ता फल दुकान के बगल में खड़े होकर चाय पी रहे थे. इसी बीच हमलावरों ने उन्हें टारगेट कर गोली चलायी. गोलीबारी करने के बाद दहशत फैलाने के लिए हमलवारों ने आस-पास भी फायरिंग की जिससे एक फल व्यवसायी और दो अन्य लोगों को भी गोली लगी. फल व्यवसायी सूरज सोनी की भी मौत हो जाने की सूचना है.

इसे भी पढ़ें – #JharkhandElection: बीजेपी के दिग्गज नेता कड़िया मुंडा के बेटे अमरनाथ मुंडा जेएमएम में शामिल

बाइक सवारों ने मारी गोली

इसी दौरान में बाइक सवार अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी. घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी है. 2012 में भी मोहन गुप्ता पर माओवादियों ने हमला किया था. उनकी कार को गोलियों से छलनी कर दिया गया था. नक्सलियों के खात्मे के लिए मोहन गुप्ता ने पिपरा थाना भवन बनवाया था.

पुलिस की ओर से मोहन गुप्ता एवं अन्य के मारे जाने की पुष्टि नहीं की गयी है. हरिहरगंज पुलिस ने बताया कि मोहन गुप्ता एवं अन्य को इलाज के लिए डालटनगंज भेजा गया है. लेकिन प्रत्यक्षदर्शियों ने उनके मृत हो जाने की सूचना दी है.

घटनास्थल पर प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी की ओर से पर्चा भी छोड़ गया है, जिसे पुलिस द्वारा जब्त कर लिया गया है.

इसे भी पढ़ें – #JharkhandElection: मनिका सीट पर वोटरों की थाह लगाने में छूट रहे उम्मीदवारों के पसीने, कांग्रेस-भाजपा में सीधा मुकाबला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like