Crime NewsPalamu

पलामू: पकड़ी गयी एक टैंकर स्प्रिट को लेकर अनजान है उत्पाद विभाग

Palamu : पलामू जिले की पुलिस ने पिछले दिनों दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों से तकरीबन साढ़े 17 हजार लीटर स्प्रिट बरामद की है. कुल मिलाकर ये स्प्रिट करीब एक टैंकर है. इधर, सूचना मिल रही थी कि इस पूरे मामले की तहकीकात पलामू पुलिस और उत्पाद विभाग के अधिकारी कर रहे हैं. लेकिन जब आज इस संबंध में पलामू की उत्पाद अधीक्षक सुश्री विमला लकड़ा से बात की गयी और इस पूरे प्रकरण की वस्तुस्थिति जानने की कोशिश की तो उन्होंने इस पूरे मामले से अपना पल्ला झाड़ लिया.

उन्होंने कहा कि उन्हें कोई भी अधिकारिक सूचना (लिखित-मौखिक) जब्त स्प्रिट मामले में नहीं दी गयी है. उन्होंने कहा कि यह पूरा अभियान पलामू पुलिस ने चलाया था. उन्हें या उनके महकमे को इसकी कोई जानकारी नहीं है. उन्होंने बताया कि पलामू प्रमंडल में इस स्प्रिट का उपयोग विभाग द्वारा परमिट देकर कराया जाता है. यह परमिट ‘कुमार बाटलर्स’ चियांकी को आवंटित है, लेकिन जब्त स्प्रिट का इस प्लांट से कोई तालमेल है कि नहीं, इस संबंध में बिना जांच के कुछ भी नहीं कहा जा सकता.

advt

इसे भी पढ़ें :Reliance JIO की खास सर्विस शुरू, WhatsApp आधारित सेवा COVID Vaccine लेने में करेगी मदद

उत्पाद अधीक्षक ने कहा कि कायदे से पुलिस को मामले की जानकारी उत्पाद विभाग को देनी चाहिए थी, ताकि स्प्रिट की गुणवता और यह किस भंडार से संबंधित है. ये मिलान करने से एक बड़े रैकेट का खुलासा हो सकता था.
बताते चलें कि ‘कुमार बाटलर्स’ ‘टनाका’ नामक देसी शराब एवं माल्टा का निर्माण करता है.

आबकारी महकमे को सूचना दिया जाना गैरजरूरी: एसपी

पलामू के जिला पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार ने बताया कि जब्त स्प्रिट मामले में रेहला के थाना प्रभारी भगवान सिंह को निलंबित कर दिया गया है, और चार तस्करों को जेल भेजा गया है. उन्होंने बताया कि स्प्रिट मामले में आबकारी महकमे को सूचना दिया जाना गैर जरुरी है. पुलिस अपने स्तर से मामले की छानबीन कर रही है.

25 और 15 अप्रैल को हुई थी अलग-अलग कार्रवाई

गौरतलब है कि गत 25 अप्रैल को रेहला में सात हजार और मेदिनीनगर में गत 15 मई को साढे 10 हजार लीटर स्प्रिट पुलिस ने एक विशेष छापामारी में बरामद किया था. इस मामले में पुलिस ने पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार किया था, जिसमें एक बिहार के जनता दल (यूनाइटेड) के प्रदेश महासचिव विजय सिंह पटेल भी शामिल थे, जिसे तत्काल पलामू पुलिस ने बिना अदालत में पेश किए बिहार पुलिस को सौंप दिया था, बाकी अन्य चार को न्यायालय में प्रस्तुत कर मेदिनीनगर केन्द्रीय कारा 14 दिन लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेजा था. मेदिनीनगर के सिंगरा से जब्त स्पिरिट के साथ पुलिस ने नौ लाख बत्तीस हजार रुपये आरोपियों के पास से बरामद किए गए थे.

इसे भी पढ़ें :हजारीबाग : 14 पेटी अवैध विदेशी शराब के साथ टाटा सफारी जब्त, एक गिरफ्तार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: