न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: लोक अदालत में 68 मामलों का हुआ निपटारा

385

Palamu: पलामू सिविल कोर्ट कैंपस में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में लगे मासिक लोक अदालत में 68 वादों का निष्पादन आपसी सुलह और समझौतों के आधार पर किया गया. यहां निष्पादित मामलों की अब ना तो किसी कोर्ट में अपील होगी और ना ही रिविजन किया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःसिमडेगाः जहरीली हड़िया पीने से छह लोगों की मौत, पांच की हालत गंभीर

मामलों के निष्पादन के दौरान एक लाख 85 हजार 250 रूपये का सेटलमेंट और इतनी ही राशि का रियलाइजेशन हुआ. मामलों के निष्पादन के लिए कुल सात बेंचों का गठन किया गया था. हर बेंच में एक-एक न्यायिक पदाधिकारी और अधिवक्ता शामिल थे. एक बेंच अलग से मे आई हेल्प यूसे संबंधित था. बेंच संख्या एक पारिवारिक मामलों से संबंधित था, इसमें एक वाद का निष्पादन किया गया. बेंच संख्या दो एमएसीटी एवं विद्युत विभाग से संबंधित था. इसमें तीन मामलों का निपटारा हुआ, जो बिजली विभाग के थे. बेंच संख्या तीन, पांच एवं सात क्रमशः दीवानी मामले, प्रीलिटिगेशन मामले एवं रेलवे से संबंधित मामले से संबंधित था, जिसमें एक भी मामले का निष्पादन नहीं हो पाया. 

इसे भी पढ़ेंःलातेहार : चार पदाधिकारियों ने की थी आवास घोटाले की जांच, पुष्टि के बाद भी मामला रफा दफा

बेंच संख्या चार आपराधिक मामले से संबंधित था, जिसमें कुल 38 मामले निपटाये गये. इसमें उत्पाद विभाग के 25 मामलों के निष्पादन के बाद एक लाख 26 हजार 750 रूपये क्षतिपूर्ति के रूप में प्राप्त हुए. इसी तरह वन विभाग के छह मामलों के निष्पादन के फलस्वरूप 58 हजार 500 रूपये की राशि क्षतिपूर्ति के रूप में प्राप्त हुई. जी.आर केस के सात मामले निष्पादित किए गए. बेंच संख्या छह विविध वाद और रेवन्यू से संबंधित था, जिसमें 26 मामले निपटाये गए.

लोक अदालत का उद्घाटन पलामू के प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह प्राधिकार के अध्यक्ष विजय कुमार, फैमिली कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश बी.डी. तिवारी,  बार एसोसिएशन के अध्यक्ष गिरिजा प्रसाद सिंह एवं अन्य ने दीप जलाकर किया. मंच संचालन प्राधिकार के सचिव प्रफुल्ल कुमार ने किया. मौके पर अन्य लोगों के अलावा न्यायिक पदाधिकारी, अधिवक्ता, मामले संबंधित पक्षकार उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: