JharkhandPalamu

#Palamu: दफ्तरी परिवेश से बाहर निकले उपायुक्त, ट्रेन में लगाया जनता दरबार

Palamu: दफ्तरी परिवेश से बाहर निकल कर बुधवार को जिले के उपायुक्त डॉ शातनु कुमार अग्रहरि ने मेमू ट्रेन में जनता दरबार लगाया.

Jharkhand Rai

इस दौरान छात्राओं और बुजुर्गों की समस्याएं सुनी. साथ ही समाधान की दिशा में कार्रवाई करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिया.

बता दें कि आमजनों की समस्याएं सुनने और उन समस्याओं के त्वरित निष्पादन के लिए मुख्य सचिव के निर्देश पर जिले में सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है.

जिले के तरहसी प्रखंड के पाठकपगार में शिविर लगाने के बाद बुधवार को मोहम्मदगंज के भजनिया में कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

Samford

आम आदमी की तरह ट्रेन से पहुंचे कार्यक्रम स्थल 

#Palamu: दफ्तरी परिवेश से बाहर निकले उपायुक्त, ट्रेन में लगाया जनता दरबार
ट्रेन से उतरते डीसी.

कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उपायुक्त आम आदमी की तरह ट्रेन में सवार हुए और 62 किलोमीटर की यात्रा करते हुए मोहम्मदगंज रेलवे स्टेशन तक का सफर किया.

उपायुक्त डालटनगंज रेलवे स्टेशन से बरकाकाना-वाराणसी के बीच चलने वाली मेमू ट्रेन में बैठे. यात्रियों के बीच उपायुक्त ने बैठकर जहां यात्रा की, वहीं उनकी समस्याएं सुनकर उसका निदान भी किया.

इसे भी पढ़ें : रांची पुलिस ने फेक करेंसी और जाली नोट छापने की मशीन के साथ डॉक्टर को गिरफ्तार किया

छात्राओं से की खुलकर बात

डालटनगंज से टयूशन पढ़कर तोलरा लौट रही छात्राओं से उपायुक्त ने खुलकर बात की. उन्होंने बगल में बैठकर छात्राओं से जानना चाहा कि उनके घर में शौचालय है या नहीं? पठन पाठन में किसी तरह की कोई समस्या होती है या नहीं?

पाठ्य सामग्री अगर नहीं है तो उसे उपलब्ध कराने की बात उपायुक्त ने कही. आने जाने के दौरान सुरक्षा के मुद्दे पर भी उपायुक्त ने छात्राओं की राय ली.

छात्राओं ने बताया कि उन्हें आने-जाने में कोई परेशानी नहीं होती. हर दिन उनका टयूशन पढ़ने आना-जाना लगा रहता था. उपायुक्त ने छात्राओं के हित की योजनाओं के बारे में समाज कल्याण पदाधिकारी से पूरी जानकारी ली.

मोहम्मदगंज के भजनिया में सुनी ग्रामीणों की फरियाद

#Palamu: दफ्तरी परिवेश से बाहर निकले उपायुक्त, ट्रेन में लगाया जनता दरबार
जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनते डीसी.

दो घंटे की यात्रा के बाद उपायुक्त मोहम्मदगंज रेलवे स्टेशन पर उतरे. यहां से उन्होंने भजनिया पंचायत में आयोजित ‘सरकार आपके द्वार’ कार्यक्रम में भाग लिया और ग्रामीणों की समस्या सुनते हुए कई मामलों का ऑन स्पॉट निष्पादन किया.

उपायुक्त ने मौके पर पीडीएस के खाद्यान्न वितरण, नया राशन कार्ड बनवाने, जमीन के दाखिल खारिज, लगान रसीद निर्गत करने, आधार कार्ड बनवाने और सुधार की समस्याएं सुनी और उसका निदान कराया. इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने अपनी समस्याएं उपायुक्त के समक्ष रखीं.

आवेदन लेकर जल्द कार्रवाई का दिलाया भरोसा

उपायुक्त ने आवास निर्माण और वृद्धा, विधवा और दिव्यांग पेंशन स्वीकृति के लिए आवेदन लिए, जबकि नया शौचालय बनाने के आग्रह पर कार्रवाई की.

साथ ग्रामीणों को विश्वास दिलाया कि उनके आवेदन पर जल्द पहल की जायेगी. कई ऐसे भी मामले शिविर में रखे गये, जिसके निष्पादन के लिए सूचिबद्ध कर संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को निर्देशित किया.

पीडीएस के तहत अनाज वितरण नहीं होने का आरोप लगाने पर ग्रामीणों के बीच चावल सहित अन्य सामग्रियों भी वितरण कराया.

इसे भी पढ़ें : ऐसे हैं विधायक भानू प्रताप शाहीः पति और पुत्र दोनों पूर्व मंत्री और मां के पास था गरीबों वाला राशन कार्ड

देवीधाम का भ्रमण कर ली स्थिति की जानकारी

दौरे के दौरान उपायुक्त चर्चित हैदरनगर देवी धाम पहुंचे. पूजा अर्चना करने के बाद वहां की व्यवस्था देखी. पिछले दौरे के दौरान दिये गये निर्देश का अनुपालन होने पर उपायुक्त ने प्रसन्नता जाहिर की.

इस दौरान धाम में पहुंच पथ बनवाने का जहां निर्देश दिया, वहीं विवाह मंडप में पंखा, स्नानागार बनवाने का निर्देश दिया. साथ ही परिसर में पेवर्स ब्लॉक बनाने को कहा.

पारा शिक्षकों ने भी रखी मानदेय की समस्या

कार्यक्रम में पारा शिक्षकों ने भी अपनी समस्या रखी. पारा शिक्षकों ने उपायुक्त शांतनु कुमार अग्रहरि को लिखित आवेदन दिया है.

आवेदन में कहा गया है कि हैदरनगर, मोहम्मदगंज व हैदरनगर के अप्रशिक्षित पारा शिक्षकों का 18.12.2018 से 17.01.2019 व मई 2019 से अबतक का मानदेय लंबित है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गयी है.

सरकार के आदेश पर उन्होंने हड़ताल अवधि में भी कार्यों का निष्पादन किया था. उन्होंने उपायुक्त से मानदेय का भुगतान कराने की मांग की. उपायुक्त ने उनकी मांग पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है.

मौके पर पारा शिक्षक निरंजन कुमार सिंह, रंजीत कुमार बैठा, लवकेश रंजन, विजय कुमार सिंह आदि मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : खूंटी पत्थलगड़ी के चार मुख्य आरोपी हत्या के वक्त पश्चिम सिंहभूम के गुदड़ी में थे मौजूद

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: