न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: दो युवकों की मौत से सनसनी, पुलिस जांच में जुटी

1,530

Medininagar:  पलामू जिले में पिछले 24 घंटे के दौरान दो युवकों की मौत हो गयी. जिले के ऊंटारी रोड थाना क्षेत्र के कुल्ही निवासी 41 वर्षीय संजीव विश्वकर्मा ने जहां फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, वहीं रामगढ़ थाना क्षेत्र के सरहुवा गांव निवासी लालमणि कोरवा (35 वर्ष) का शव शनिवार को नावाडीह पंचायत के बरवाही टोला के कच्चा कुआं से बरामद किया गया. दोनों घटनाओं की जांच में पुलिस जुट गयी है.

इसे भी पढ़ेंः मुस्लिम समाजः आतंकवाद से सबसे ज्यादा नुकसान मुस्लिम समाज को ही हुआ है

ग्रासिम इंडस्ट्रीज में कार्यरत था संजीव विश्वकर्मा 

संजीव विश्वकर्मा रेहला स्थित ग्रासिम इंडस्ट्रीज में केमिस्ट के पद पर कार्यरत था. घटना के पीछे पारिवारिक विवाद सामने आ रहा है. हालांकि इसकी पुलिस की ओर से पुष्टि नहीं की गयी है. पुलिस द्वारा इस संबंध में आत्महत्या का मामला दर्ज किया गया है.

इसे भी पढ़ेंः न्यूजीलैंड फायरिंगः हमले के बाद बांग्लादेश क्रिकेट टीम लौटी स्वदेश

हत्या का आरोप लगाया  

Related Posts

झारखंड में भाजपा ने फिर से लहराया परचम, आजसू ने भी खाता खोला

अपनी सीट नहीं बचा पाये प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ

रामगढ़ थाना के एएसआई अनिल कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया में लालमणि कोरवा की मौत एक्सीडेंटल प्रतीत होती है. बावजूद पिता बिहारी कोरवा द्वारा लगाए गए हत्या के आरोप और दिए गए आवेदन के बाद मामले की जांच की जा रही है. पुलिस के अनुसार लालमणि आपराधिक प्रवृति का युवक था. हत्या के मामले में वह जेल जा चुका था. फिलहाल उसकी हत्या के पीछे प्रेम-प्रसंग का मामला बताया जा रहा है. हालांकि वह विवाहित था. थाना प्रभारी के अनुसार हत्या के कारणों का जल्द खुलासा कर लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंः अग्रवाल ब्रदर्स हत्याकांडः पुलिस की गिरफ्त से दूर मुख्य आरोपी लोकेश चौधरी, कुर्की-जब्ती की तैयारी में पुलिस

मंगलवार से लापता था लालमुनी  

मृतक के भाई अजय कोरवा ने बताया कि दोनों भाई मंगलवार की रात्रि में घर से नावाडीह पंचायत के बरवाही टोला निवासी करमा कोरवा के घर लड़की की शादी समारोह में शामिल होने आये थे. जहां गढ़वा जिला रमकंडा थाना क्षेत्र के गोबरदाहा गांव से बारात आयी थी. दोनों भाई साथ में खाना खाये. उसके बाद दोनों इधर-उधर कहीं चले गये. बाद में सोचा कि लालमुनी घर चला गया होगा. बुधवार की सुबह में घर आया तो जानकारी मिली कि वह घर नहीं लौटा है. उसके बाद से उसकी खोजबीन होने लगी पर भाई नहीं मिला. घर के सदस्यों ने सोचा कि वह कहीं रिश्तेदारी में चला गया होगा. शनिवार की सुबह में बरवाही टोला के लोगों द्वारा सूचना मिली कि कुआं में एक शव तैरता हुआ पाया गया है. बाद में शव की पहचान लालमुनी कोरवा के रूप में की गई. लालमुनी पांच भाइयों में सबसे बड़ा था. युवक चेन्नई में काम करता था. करीब एक सप्ताह पूर्व वह घर लौटा था. उसके दो नाबालिग बच्चे हैं.

इसे भी पढ़ेंः तेजस्विनी प्रोजेक्ट को सुदृढ़ करेगी झारखंड महिला विकास सोसाइटी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: