Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू : 70 हजार में नाबालिग लड़की का सौदा, मध्य प्रदेश के खरीददार समेत तीन गिरफ्तार

Palamu : पलामू जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र में रहने वाली एक नाबालिग लड़की को मध्य प्रदेश के छतरपुर से बरामद किया गया है. नाबालिग को वहां ले जाकर 70 हजार रूपये में बेच दिया गया था. इस सिलसिले में तीन आरोपियों गढ़वा के रमकंडा के दुर्गन निवासी जितेंद्र पासवान, डंडई के बालखेड़ा के उपेंद्र कुमार गौतम उर्फ रोहित एवं मध्य प्रदेश के छतरपुर के सटैई के बसोनिया निवासी राकेश यादव को गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ें:पश्चिमी यूपी : जिसके साथ जाट, उसी की ठाट

4 अगस्त 2021 को सामने आया था यह मामला

रामगढ़ थाना में गत 4 अगस्त 2021 को एक नाबालिग लड़की के अपहरण से संबंधित मामला दर्ज कराया गया था. पुलिस कांड दर्ज कर छानबीन कर रही थी. छत्तीसगढ़ के रामानुजगंज जाकर संबंधित पता पर छानबीन की. पूछताछ में पता चला कि नाबालिग लड़की को किसी के द्वारा फोन पर दूसरा काम करने के बहाने बुलाया गया था तथा उसके बाद वह गायब है.

कुछ दिन पहले टेक्निकल एंड वुमन इनपुट के आधार पर ज्ञात हुआ कि अपहृत को मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के त्रिपुरा निवासी बक्का यादव को बेच दिया गया है.

सूचना का सत्यापन मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के टेलीपूरा गांव जाकर की गयी. सत्यापन के क्रम में पाया गया कि अपहृत बक्का यादव के घर पर थी. ऐसी स्थिति में वहां के लोकल थाना की मदद से अपहृत को बरामद किया गया तथा उससे पूछताछ की गयी.

इसे भी पढ़ें:पाकुड़, पलामू, देवघर, लातेहार और धनबाद में पुलिस कप्तान का औसत कार्यकाल महज एक साल

पूछताछ में अपहृत ने बताया कि उसके रूम के बगल में रहने वाले हैं रोहित उर्फ उपेंद्र कुमार गौतम ने दूसरी साइड पर काम करने हेतु पूछताछ की गई तथा उसे 1 दिन में लगभग 600 कमाने का झांसा दिया. झांसे में आकर काम करने के लिए तैयार हो गयी.

रोहित अपहृत को अपने साथ छतीसगढ़ के तातापानी ले गया, जहां पर जितेंद्र पासवान से मिलवाया तथा वहीं पर अपहृत को डराया धमकाया तथा जितेंद्र पासवान उसे लेकर छतरपुर (मध्य प्रदेश) चला गया, जहां पर अपहृत को राकेश यादव से मिलवाया गया. राकेश यादव और जितेंद्र यादव उसे महाराजगंज ले आए ले गया और उसे 70000 में बक्का यादव से बेच दिया.

इसे भी पढ़ें:राज्य में एमवीआइ की नियुक्ति का रास्ता साफ, नियमावली लागू

नाबालिग को खरीदने वाले उम्र दराज व्यक्ति की लड़की से शादी के बाद देह व्यपार करवाने की योजना थी. पलामू पुलिस की सजगतता ने नाबालिग को बचा लिया गया और लड़की को बेचने वाले तीन गिरफ्तार हुए. रामगढ़ थाना प्रभारी प्रभात रंजन राय ने बताया कि नाबालिग को गढ़वा के डंडई के रहने वाले रोहित उर्फ उपेंद्र काम के बहाने छत्तीसगढ़ के रामानुजगंज ले गया था.

एक दिन बाद नाबालिग को तातापानी ले जाया गया और वहां गढ़वा के रहने वाले रमकंडा जितेंद्र पासवान से मिलवाया गया. उसके बाद जितेंद्र पासवान नाबालिग को लेकर एमपी के छत्तरपुर चला गया. राकेश यादव नाबालिग से शादी के बाद देह व्यापार करवाने वाला था.

इसे भी पढ़ें:झारखंड : राज्य के छह विवि में हिंदी और हिस्ट्री के सहायक प्रोफेसर का रिजल्ट जारी

महत्वपूर्ण बात यह है कि बक्का यादव लड़की खरीदना चाह रहा था और खर्च करने को तैयार था. यह बात बक्का के रिश्तेदार राकेश यादव ने पहले से ही रोहित और जितेंद्र को बतायी थी.

तब से रोहित और जितेंद्र किसी लड़की को जाल में फंसाने की जुगत में लग गये. उनलोगों ने इस कांड की पीड़िता के अलावे एक अन्य लड़की को भी फंसाने का प्रयास किया था, जिस पर अनुसंधान किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें:Sarkari Naukri: CISF में निकली 647 वैकेंसी, 5 फरवरी 2022 तक करें अप्लाई

Advt

Related Articles

Back to top button