JharkhandPalamu

पलामू: DDC ने एमएमसीएच में बने कोविड केयर सेंटर का किया निरीक्षण, लापरवाही बरतने पर DPM को शोकॉज

Palamu : कोविड-19 संक्रमित मरीजों की संख्या में हो रही वृद्धि को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड पर कार्य कर रही हैं. इसी सिलसिले में मंगलवार को उपायुक्त शशि रंजन के निर्देश पर उप विकास आयुक्त शेखर जमुआर ने मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में बने कोविड केअर सेंटर का औचक निरीक्षण किया.

इसी दौरान वे अस्पताल की मूलभूत आवश्यकताओं से अवगत हुए.

निरीक्षण के दौरान डीडीसी ने पैरा मेडिकल स्टाफ, कोविड केयर सेंटर में तैनात अन्य स्वास्थ्य कर्मियों से उनका हालचाल जाना. इस दौरान डीडीसी ने कोविड कार्य में लगे सभी लोगों से खुद का ख्याल रखते हुए लोगों का इलाज करने की बात कही.

advt

इसे भी पढ़ें:महाराष्ट्र : तीन बच्चों की मां होना महंगा पड़ा महिला को, गंवानी पड़ी जेल अधीक्षक की नौकरी

ऑक्सीजन सिलिंडर की कमी नहीं: डीडीसी

निरीक्षण के दौरान जिले में ऑक्सीजन सिलिंडर की उपलब्धि के संबंध में डीडीसी ने कहा कि जिले में कोविड मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी. जिला प्रशासन द्वारा इसकी मुकम्मल व्यवस्था कर ली गयी है.

उन्होंने लोगों से जरूरत पड़ने पर ही अस्पताल आने की अपील की. उन्होंने कहा कि मामूली रूप से बीमार लोग घर में ही आइसोलेट होकर स्वास्थ्य लाभ ले सकते हैं.

सभी वार्डों की साफ-सफाई का दिया निर्देश

निरीक्षण के दौरान डीडीसी एक एक कर सभी वार्ड पहुंचे, इस दौरान उन्होंने पाया कि बढ़ती मरीजों की संख्या के कारण कई जगह पर उचित साफ सफाई नहीं रखा जा रहा है ऐसे में उन्होंने डीपीएम को सभी वार्डों में साफ-सफाई कराने को लेकर निर्देशित किया.

कार्य में लापरवाही बरतने को लेकर डीपीएम से मांगा स्पष्टीकरण

निरीक्षण के दौरान डीडीसी ने पाया कि पूर्व में दिए निर्देश के बावजूद मैनपावर और लॉजिस्टिक्स की समुचित व्यवस्था डीपीएम द्वारा नहीं की गयी है साथ ही मरीजों को लाने ले-जाने के लिए वाहन-एम्बुलेंस, दवाई आदि की व्यवस्था भी नहीं की गयी है अतः इन सब लापरवाही को देखते हुए डीडीसी ने डीपीएम से स्पष्टीकरण की मांग की है.

इसे भी पढ़ें:CORONA EFFECT : टाटा मोटर्स ने की दो दिन के ब्लॉक क्लोजर की घोषणा

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: