न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : ग्रासिम इंडस्ट्रीज के इंप्लाई की पत्थर से कूच कर हत्या

 मोबाइल और पैसे थे गायब

50

Palamu : पलामू जिले में हाल के दिनों में आपराधिक घटनाओं में अचानक से वृद्धि हो गयी है. डीआरडीए कर्मी और फूटपाथ दुकानदार की हत्या के बाद जिले के रेहला में ग्रासिम इंडस्ट्रीज (आदित्य बिड़ला कंपनी) के इंप्लाई लालमणि शुक्ला (52वर्ष) की हत्या कर दी गयी. लालमणि का शव फैक्ट्री से महज सौ गज की दूरी पर भेलवा नदी से बरामद किया गया. वे लंबे समय से ग्रासिम इंडस्ट्रीज के इंप्लाई थे. घटना के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है.

फैक्ट्री से घर जाने के दौरान हुई हत्या

जानकारी के अनुसार हर दिन की तरह ग्रासिम इंडस्ट्रीज में काम करने के बाद लालमणि रात करीब आठ बजे के आस-पास अपने घर पास के डंडिलाखुर्द गांव जाने के लिए निकले थे. रात को वे घर नहीं लौटे. रात से ही उनकी खोजबीन की जा रही थी, लेकिन सुबह करीब आठ बजे उनका शव खून से लथपथ फैक्ट्री से सटे भेलवा नदी से बरामद किया गया. चेहरे पर पत्थर से बुरी तरह वार किया गया था. गले में रूमाल लटका हुआ था. घटनास्थल जिस जगह पर था, वहां की जानकारी स्थानीय लोगों के अलावा बाहरी हमलावारों को नहीं हो सकती. ऐसे में इस घटना के पीछे लोकल और जानकार लोगों की संलिप्तता से इंकार नहीं किया जा सकता.

लूटपाट के बाद हत्या की संभावना

ग्रासिम इंडस्ट्रीज में बतौर वाहन डिस्पैच मैन कार्यरत लालमणि अपने पास कमोवेश हमेशा मोटा पैसा रखते थे. शराब पीने की भी उनकी आदत थी. उम्मीद की जा रही है कि पैसों के लिए उनके साथ लूटपाट करने के बाद उनकी पहले रूमाल से गला दबाकर हत्या की गयी होगी और फिर किसी तरह की शंका होने पर चेहरे पर पत्थर से वार किया गया होगा. लालमणि का मोबाइल और पैसा गायब मिला है, जबकि सेफ्टी टोपी, घड़ी सहित अन्य सामान से मौके पर पड़े मिले हैं.

स्वान दस्ता से जांच शुरू

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर डीएसपी सुरजीत कुमार पहुंचे. उनके साथ रेहला थाना की पुलिस भी थी. घटना की जांच के लिए स्वान दस्ता (खोजी कुत्ता) भी लाया गया. कुछ दूर तक कुत्ता सूंघते हुए गया, लेकिन गांव से बाहर एक मकान के पास जाकर आगे नहीं बढ़ सका. परिजनों के अनुसार लालमणि सीधे साधे व्यक्ति थे. उनका दो बेटा और एक बेटी है. हत्या की ठोस वजह की जानकारी परिजनों के पास भी नहीं थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: