JharkhandPalamu

पलामू: सीआरपीएफ 134 बटालियन ने मनाया शौर्य दिवस

Palamu : सीआरपीएफ की 134वीं वाहिनी द्वारा आज शौर्य दिवस मनाया गया. स्थानीय जीएलए कॉलेज स्थित वाहिनी मुख्यालय में समारोह का आयोजन किया गया. इस अवसर पर कमांडेंट अरूण देव शर्मा द्वारा क्र्वाटर गार्ड में सलामी ली गई. उसके पश्चात् कमाण्डेंट ने पदाधिकारियों और जवानों को संबोधित किया.

बताया कि 9 अप्रैल 1965 को रन ऑफ कच्छ (गुजरात) में ‘सरदार’ और ‘टाक’ चैकियों पर पाकिस्तानी सेना की इन्फेन्ट्री बिग्रेड ने केरिपुबल द्वितीय बटालियन कम्पनी पर हमला कर दिया था.

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने वीरतापूर्वक युद्व किया एवं आक्रमण को विफल कर दिया. इस हमले में हमारे बहादुर जवानों ने 34 पाकिस्तानी सैनिकों को मौत के घाट उतार दिया एवं 4 को जिंदा गिरफ्तार किया. बल के बहादुर जवानों की गाथा को श्रद्वांजलि के रूप में हर वर्ष 9 अपै्रल को शौर्य दिवस के रूप में मनाया जाता है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें :झारखंड सचिवालय में भी कोरोना ब्लास्ट, 49 अफसर और कर्मचारी आये चपेट में

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

उन्होनें बताया कि सैनिक लड़ाई के इतिहास में यह एक अद्वितीय उदाहरण है, जिसमें अर्धसैनिक बल की एक छोटी सी टुकड़ी के जवानों ने पूरे बिगे्रड के नियोजित आक्रमण को निष्फल कर दिया. केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के सभी शहीद जवानों को नमन करते हैं.

मौके पर कमाण्डेंट के नेतृत्व में सभी जवानों द्वारा संकल्प लिया गया कि बल की सुनहरी परम्परा को बनाए रखते हुए किसी भी प्रकार के बाहरी आक्रमण, आतंकवाद और हिंसा का डटकर मुकाबला करेंगें तथा असामाजिक तत्वों को अपने मंसूबे में कामयाब नहीं होने दंेगे चाहे इसके लिए अपनी जान ही क्यों न न्योछावर करना पडे़.

इसे भी पढ़ें :रांची, पलामू, गढ़वा, बोकारो और रामगढ़ में बारिश की संभावना, विभाग ने जारी की चेतावनी

Related Articles

Back to top button