JharkhandPalamu

Palamu : रिमांड पर लिये गये अपराधियों ने खोले राज, हथियार खरीद मामले में दो गिरफ्तार, पिस्टल-सिक्सर और गोलियां बरामद

Palamu : पलामू जिले के हरिहरगंज थाना क्षेत्र में गत 16 जून को हुए अरविंद ठाकुर हत्याकांड के दोनों आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ की गयी. दोनों ने कई राज खोले. इस पर की गयी कार्रवाई में हथियार खरीद मामले में दो को गिरफ्तार किया गया. पिस्टल, सिक्सर और गोलियां बरामद की गयीं.

इसे भी पढ़ें – अडानी,अंबानी और रुइया को लाभ पहुंचाने पर तूली है भाजपा, कोरोना काल में कोल ब्लॉक की नीलामी क्यों- झामुमो

अवैध हथियार सप्लाई मामले में चल रही है छापामारी

विदित हो कि गत 16 जून को बिहार के औरंगाबाद जिले के कुटुम्बा थाना के महाराजगंज निवासी अरविंद ठाकुर की हरिहरगंज में गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी. इस सिलसिले में छतरपुर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के नेतृत्व में गठित एसआइटी हथियार के अवैध धंधे और सप्लाई को लेकर लगातार छापामारी कर रही है. अरविंद ठाकुर की हत्या हथियार की खरीद बिक्री को लेकर की गयी थी.

पुलिस निरीक्षक सह हरिहरगंज थाना प्रभारी दीपक कुमार ने जानकारी दी कि गत 24 जून को अरविंद ठाकुर हत्याकांड के दोनों आरोपियों श्रवण कुमार गुप्ता तथा प्रवीण जायसवाल को रिमांड पर लिया गया. उनसे गहन पूछताछ की गयी. इस दौरान उनकी निशानदेही पर हथियार खरीद मामले में दो व्यक्तियों रंजीत कुमार गुप्ता तथा अलीम अंसारी को गिरफ्तार किया गया है. इनमें रंजीत कुमार गुप्ता उर्फ कारू हरिहरगंज बाजार तथा सलीम अंसारी सियरभूका का रहनेवाला है.

इसे भी पढ़ें – कोरोना के 85 प्रतिशत मामले और 87 प्रतिशत मौत 8 राज्यों में : स्वास्थ्य मंत्रालय

गढ़वा से खरीदते थे हथियार

अपराधी श्रवण कुमार गुप्ता तथा प्रवीण जायसवाल ने स्वीकार किया था कि वे लोग गढ़वा के दीपक सोनी से हथियार खरीदने व बेचने का काम करते थे. उन्होंने गिरफ्तार दोनों व्यक्तियों के नाम का खुलासा किया. कहा कि उन दोनों ने उससे हथियार खरीदे हैं. उसकी निशानदेही पर रंजीत कुमार गुप्ता उर्फ कारू के हरिहरगंज सीएचसी के समीप गोदाम से देसी पिस्टल व दो गोली तथा सियरभुका गांव अलीम अंसारी के घर से रिवाल्वर व चार गोली बरामद की गयी.

इसके साथ ही अन्य लोगों के संदर्भ में पुलिस छानबीन कर रही है. गिरफ्तार दोनों व्यक्तियों को शनिवार को जेल भेज दिया गया. छापामारी दल में शामिल पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी दीपक कुमार, एसआइ इंद्रदेव राम, प्रशिक्षु एसआइ अजय कुमार सिंह, अभय आनंद, सोनू कुमार दास, वरुण कुमार हजाम, सुमित कुमार दास, अवध बिहारी पांडेय, एएसआइ उमर खान के अलावे रिजर्व और सैट के कई जवान शामिल थे.

adv

इसे भी पढ़ें – कोरोना काल में बच्चों के मिड-डे मील का छिना निवाला, 49 फीसदी बच्चों को ही मिली नकद राशि

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: