HEALTHPalamu

Palamu: कोविड संक्रमितों का आंकड़ा हुआ शून्य, 3637 की हुई थी पुष्टि

  •  2.54 लाख लोगों की हो चुकी है कोरोना की जांच

Palamu: पलामू में कोरोना का खतरा पूरी तरह नहीं टला है. बावजूद हर स्तर पर लोग लापरवाही बरत रहे हैं. बिना मास्क लगाए ही भीड़ वाले क्षेत्रों में पहुंच रहे हैं. सावधानी नहीं बरती गई तो कोरोना संक्रमण की तेजी से फैलने की संभावनाएं भी बढ़ जाएगी. कारण कि महाराष्ट्र व केरल जैसे प्रदेशों में हर दिन हजारों संक्रमित मिल रहे हैं.

बहरहाल, पलामू में फिलहाल एक भी सक्रिय कोरोना संक्रमित नहीं हैं. अब तक जिले भर में दो लाख 54 हजार 663 लोगों की कोरोना जांच की गई. इसमें 3637 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई. इसमें 24 संक्रमितों की मौत हुई और शेष संक्रमित स्वस्थ होकर घर लौट गए. कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाना बेहद जरूरी है. हालांकि अब कोरोना से बचाव के लिए टीका आया है, लेकिन फिलहाल टीका महज स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए उपलब्ध है. इसलिए हरेक व्यक्ति को संक्रमण से बचाव का तरीका अपनाना चाहिए.
पलामू के डीडीएम शशिकांत तिवारी ने बताया कि रविवार को 161 लोगों की कोरोना जांच की गई. हालांकि एक भी संक्रमित नहीं पाए गए.

सतबरवा में सिविल सर्जन ने घूम-घूम कर बांटे मास्क

हाल के दिनों में लगातार महानगरों में बढ़ रही कोरोना संक्रमण की घटनाओं के कारण पलामू जिला स्वास्थ्य विभाग चिंतित है. रणनीति बनाकर पलामू को कोरोना संक्रमण से बचाने की दिशा में जागरूकता फैला रहा है. रविवार को पलामू के सिविल सर्जन डा जान एफ केनेडी जागरूकता फैलाने के लिए सतबरवा पहुंचे.

इसे भी पढ़ें :राजधानी में बाघ जैसा जानवर दिखायी पड़ा!  वन विभाग ने खोजने के लिए रेंजर को भेजा

सतबरवा थाना के समीप वाहन चालकों के अलावा बड़ी संख्या में आम लोगों के बीच मास्क का वितरण किया.कोरोना संक्रमण से बचाव के प्रति जागरूक किया. डा जान एफ केनेडी ने कहा कि अब तक कोरोना संक्रमण पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है.

देश के महाराष्ट्र व केरल आदि प्रदेशों में कोरोना का मामला बड़े पैमाने पर आया है. महाराष्ट्र राज्य में एक-एक दिन में पांच पांच हजार कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं.यह कोरोना संक्रमण का सेकंड वेब है. जो पुराने संक्रमण की अपेक्षा ज्यादा खतरनाक साबित हो रहा है.
कहा कि पहले की तरह ही लोगों को सतर्कता बरतनी है. लोगों से शारीरिक दूरी का पालन करने के अलावा नियमित मास्क का इस्तेमाल करने की अपील की. कहा कि नियमित रूप लोग हाथ को साबुन से धोएं.

इधर, मेला टांड़ बाजार में घूम-घूम कर दुकानदारों के अलावा बाजार में आए लोगों के बीच मास्क का वितरण किया. मौके पर सतबरवा थाना प्रभारी इंद्रदेव राम, एसआई कर्ण पाल नाग समेत कई पुलिस पदाधिकारी भी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें :22 फरवरी से राज्य में चलेगा फाइलेरिया मुक्ति अभियान, घर-घर तक चलाया जायेगा MDA प्रोग्राम

सतबरवा को मिलेगा दो चिकित्सकों का तोहफा

सतबरवा स्थित उप स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सकों की कमी से संबंधित सवाल पूछे गए. इसपर सिविल सर्जन डा जान एफ केनेडी ने कहा कि सतबरवा को दो चिकित्सकों का तोहफा मिलेगा. अस्पताल की व्यवस्थाएं सुदृढ़ की जा रही हैं. सतबरवा में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में विभागीय स्तर पर लगातार प्रयास किए जा रहे हैं.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: