JharkhandPalamu

Palamu : डालटनगंज पहुंचा कोरोना का वैक्सीन, प्रथम चरण के लिए पलामू प्रमंडल को मिला 14 हजार 330 डोज

Palamu : लंबे इंतजार के बाद पलामू में बुधवार को कोरोना का वैक्सीन पहुंच गया. कुल 14 हजार 330 डोज पहुंचा है. इसमें पलामू का 4160, गढ़वा के लिए सबसे अधिक 6350 एवं लातेहार के लिए सबसे कम 3820 डोज शामिल है. वैक्सीन को सुरक्षित ढंग से कोल्डचेन सेंटरों में रख लिया गया है. पलामू में 16 जनवरी से कोरोना संक्रमण टीकाकरण अभियान शुरू होना है. इसे लेकर विभागीय स्तर पर तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं.

इसे भी पढ़ें-फर्जी वोटर आइडी कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस बनाने वाले तीन लोग गिरफ्तार

मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल समेत हुसैनाबाद अनुमंडलीय अस्पताल, लेस्लीगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, पांकी स्वास्थ्य केंद्र, पाटन स्वास्थ्य केंद्र व चैनपुर स्वास्थ्य केंद्र समेत जिले में छह टीकाकरण केंद्र बनाये गये हैं. यहां कोविड पोर्टल में तैयार सूची के अनुसार स्वास्थ्य कर्मचारियों का टीकाकरण होगा. हरेक दिन एक केंद्र पर सौ लोगों को टीका लगाया जायेगा.

मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सरकारी चिकित्सक, नर्स व पारा मेडिकल स्टाफ को टीका दिया जायेगा. हर केंद्र पर टीका लगाने के लिए दो नर्स की तैनाती की गयी है. सुरक्षा के लिए पुलिस की भी व्यवस्था की गयी है. टीकाकरण के लिए जिले के लगभग 7600 स्वास्थ्यकर्मियों ने पंजीयन कराया है. इसमें सरकारी व निजी कर्मचारी शामिल हैं.

मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल समेत जिले के पांच अन्य अस्पतालों को टीकाकरण केंद्र बनाया गया है. इसमें चार कमरों का इस्तेमाल किया जायेगा. टीकाकरण कक्ष, प्रतीक्षालय, पंजीयन कक्ष और आब्जर्वेशन कक्ष भी बनाये जा रहे हैं. टीकाकरण केंद्र के मुख्य द्वार पर एक स्वास्थ्य कर्मचारी को जिम्मेवारी सौंपी जायेगी कि पहुंचनेवाले लाभार्थियों के हाथ को सैनिटाइज करें और मास्क लगाने के बाद ही अंदर भेजें.

पंजीयन कक्ष में मौजूद कर्मचारी कोविन पोर्टल से प्राप्त सूची में संबंधित लाभार्थी के नाम का मिलान कर लाभार्थी को दूसरे कक्ष में भेजेंगे. इसी तरह पंजीयन व अन्य प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद लाभार्थी को प्रतीक्षालय में बैठाया जायेगा. यहां वे लोग टीकाकरण के लिए आमंत्रित किये जाने तक इंतजार करेंगे. संबंधित लाभार्थियों को बारी-बारी से टीकाकरण कक्ष में भेजा जायेगा. टीकाकरण के बाद लाभार्थियों को आब्जर्वेशन कक्ष में भेज दिया जायेगा. 30 मिनट तक लाभार्थी को आब्जर्वेशन कक्ष में ही रखना है. इसका उद्देश्य है कि अगर टीकाकरण के बाद अप्रिय घटना घटे तो तत्काल उपचार हो सके.

पलामू के डीआरसीएचओ डॉ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि पलामू में भी 16 जनवरी से कोविड-19 का टीका लगाने के लिए अभियान चलाया जायेगा. इससे संबंधित तैयारियां पूर्ण कर ली गयी हैं. टीके आने के बाद उन्हें कोल्ड स्टोरेज सेंटर में सुरक्षित रख दिया गया है. अस्पताल से आइस बाक्स में रख कर टीका को टीकाकरण केंद्र तक पहुंचाने की तैयारी है. टीका रखने के लिए जिले में पहले से ही कोल्ड चेन सिस्टम तैयार किया हुआ है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: