Palamu

पलामू: मेदिनीनगर में पूरी हुई फ़्यूरिकुलेटर की सफाई, रविवार से होगी जलापूर्ति

Palamu: पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर के बेलवाटिका स्थित पंपूकल में फ़्यूरिकुलेटर की सफाई पूरी कर ली गयी है. सबकुछ ठीक ठाक रहा तो रविवार से मेदिनीनगर शहर में जलापूर्ति शुरू करा दी जायेगी. विदित हो कि गत 23 अगस्त से फ़्यूरिकुलेटर की सफाई चल रही थी. उसमें नदी के पानी के साथ आए बालू और कीचड़ भर गया था. इस कारण जलापूर्ति बाधित थी.

इसे भी पढ़ें :बच्चे ने पबजी खेलने के चक्कर में मां-बाप के डूबाए 10 लाख रुपए, डांटने पर घर छोड़कर भागा

advt

पीएचइडी के पाइप लाइन इंस्पेक्टर छोटे लाल गुप्ता ने बताया कि पिछले पांच दिनों से बेलवाटिका के पंप हाउस में बने फ़्यूरिकुलेटर की सफाई की जा रही थी. सफाई शनिवार को पूरी हो गयी है. फ़्यूरिकुलेटर में पानी भी भरा जा रहा है. पानी वहां से फील्टर में आयेगा और फिर पाइपो के माध्यम से टंकियों में चढ़ाकर उसकी आपूर्ति की जायेगी. उन्होंने कहा कि सबकुछ ठीक ठाक रहा तो रविवार की सुबह से मेदिनीनगर के अलग-अलग इलाकों में जलापूर्ति शुरू कर दी जायेगी.
विदित हो कि कोयल नदी से सीधे पानी पंपूकल के फ़्यूरिकुलेटर में पहुंचता है. जैकवेल के अभाव में नदी का पानी सीधे आपूर्ति की जाती है. पाइप से पानी खींचने के दौरान उसके साथ बालू और कीचड़ भी आ जाता है और फ़्यूरिकुलेटर में भर जाता है. हर दो से तीन साल पर इसमें जमा कीचड़ को हटाया जाता है. इस वर्ष एक वर्ष के भीतर ही फ़्यूरिकुलेटर में बालू और कीचड़ भर गया था.

25 साल का इतिहास बदला, देखने नहीं आए पीएचइडी के कार्यपालक अभियंता: परशुराम

भाजपा के वरिष्ठ नेता परशुराम ओझा ने कहा कि फ़्यूरिकुलेटर की सफाई पूरी हो गयी है. पांच से छह दिनों तक सफाई कार्यक्रम चला, लेकिन 25 साल के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब पीएचइडी के कार्यपालक अभियंता पंपूकल की स्थिति देखने नहीं आए. उन्होंने कहा कि शहर के हजारों लोग छह दिनों से पानी के लिए परेशान हैं, लेकिन विभाग के बड़े अधिकारियों को इससे कोई लेना-देना नहीं है.

इसे भी पढ़ें :Truecaller को टक्कर देने आया देसी ऐप BharatCaller, जानें किन मायनों में होगा बेहतर

उन्होंने कहा कि जो पदाधिकारी जिला मुख्यालय में अपना समय नहीं दे सकते, वैसे पदाधिकारी से गांव के सुदूर इलाकों में सप्लाई पानी बहाल कराने को लेकर उम्मीद कैसे की जा सकती है? ऐसे पदाधिकारी सरकारी तनख्वाह तो उठाते हैं, लेकिन जनता के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं. ऐसे कर्मियों पर नकेल कसने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि पिछले छह दिनों तक उन्होंने लगातार मॉनिटरिंग कर सफाई कार्य पूरा कराया. लोगों को रविवार से पानी मिलने की संभावना है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: