JharkhandPalamu

पलामू: मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने मतदाता पुनरीक्षण अभियान की समीक्षा की, आवेदनों का जल्द निबटारा का निर्देश

Palamu: पलामू दौरे पर आए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के रवि कुमार ने शनिवार शाम को मेदिनीनगर के परिसदन में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. मौके पर उन्होंने कहा कि केंद्र निर्वाचन आयोग का लक्ष्य है कि 1 जनवरी 2022 अहर्ता तिथि के परिदृश्य में सभी योग्य नागरिकों का नाम मतदाता सूची में शामिल हो. विशुद्ध

मतदाता सूची का निर्माण किया जाये. ये राज्य में आगामी पंचयात चुनाव के लिये लाभदायक साबित होगा.
इस अवसर पर जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-उपायुक्त शशि रंजन भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें:BIG NEWS : स्कूली बच्चों पर CORONA का कहर, बेंगलुरू के इंटरनेशनल स्कूल में 33 स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसके अलावे उप निर्वाचन पदाधिकारी शैलेश कुमार सिंह समेत जिले के पांचों निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी समेत सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी बैठक में शामिल हुए.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

बैठक में मतदाता सूची संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 2022 की समीक्षा की गयी. इस क्रम में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा विधानसभा वार संचालित कार्य यथा नए मतदाता का पंजीयन, मतदाता सूची में सुधार आदि का जायजा लिया गया तथा सुधार कार्यों में तेजी लाने के लिए सभी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया.

के.रवि कुमार ने कहा कि अच्छा चुनाव कराने के लिए अच्छी मतदाता सूची जरूरी है. उन्होंने इसे सफल बनाने के लिए सभी संबंधितों को पूरे त्रुटियों को सुधारने तथा नए मतदाताओं को जोड़ने हेतु निरंतर प्रयास करने की बात कही. इसके अलावे बैठक में विधानसभावार प्राप्त फॉर्म 6, 7, 8, 8ए की गहन समीक्षा की गयी.

इसे भी पढ़ें :दिल्ली के प्रगति मैदान में चल रहे 40वें अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला का समापन, झारखंड को गोल्ड मेडल

मतदाता सूची विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम-2022 के दौरान प्राप्त हो रहे सभी आवेदनों को ससमय निष्पादित करने की बात कही.

उन्होंने वोटर हेल्पलाइन एप व गरुड़ एप के बारे में सभी नागरिकों को ज़्यादा से ज्यादा जागरुक करने की बात कही. उन्होंने सभी संबंधित पदाधिकारियों से तकनीक का बेहतर उपयोग करने पर बल दिया. साथ ही कहा कि किसी भी तकनीकी समस्या हेतु राज्य के निर्वाचन कार्यालय से संपर्क में बने रहने की बात कही.

उन्होंने जिले में कम मतदान प्रतिशत एवं कम लिंगानुपात होने पर चिंता जाहिर करते हुए इसमें सुधार लाने हेतु सभी को सक्रिय होकर काम करने की बात कही.

इसे भी पढ़ें:भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में नंबर 1 बना बिहार

Related Articles

Back to top button