JharkhandPalamu

पलामू : महिला और दो बच्चों के शव कुएं से बरामद होने का मामला, पति सहित पांच भेजे गये जेल

पुलिस ने महिला के पति, ससुर, जेठ, जेठानी और सास को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है.

विज्ञापन

 Palamu :  पलामू जिले के नावाबाजार थाना क्षेत्र के रजहरा गांव के कुएं से मिले महिला और उसके दो बच्चों के शव मामले में शनिवार को बड़ी कार्रवाई की गयी. पुलिस ने महिला के पति, ससुर, जेठ, जेठानी और सास को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पुलिस अभी तक कुएं मे डूबने से तीन की मौत मान रही है.पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है.

अगर मृतकों के फेफड़े में पानी नहीं मिला तो अनुसंधान का एंगल बदल जायेगा और पुलिस मर्डर या फिर अन्य बिन्दु पर जांच शुरू करेगी.

विदित हो कि गत गुरुवार रात से अपने दो बच्चों के साथ लापता राजहरा निवासी आशीष पांडेय की पत्नी सोनी देवी का शव शुक्रवार देर रात करीब दो बजे घर के पास ही स्थित कुएं से बरामद हुआ था. वहीं, उसके दोनों बच्चों (पांच वर्षीय बेटी और तीन वर्षीय बेटा) के शव शुक्रवार की देर शाम को ही उसी कुएं से 100 गज दूर स्थित दूसरे कुएं से बरामद कर लिये गये थे.

advt

इसे भी पढ़ें : अशोक नगर सोसायटी मामला : कॉलर चमका कर ‘भ्रष्टाचार’ रोकने निकले अधिकारी मनोज कुमार के ही दामन पर हैं भ्रष्टाचार के आरोपों के दाग

बच्चों को लेकर घर से भाग जाने का सन्हा दर्ज कराया था ससुरालवालों ने

सोनी देवी का मायका सतबरवा के पोलपोल सिंदुरिया गांव में है. 2014 में राजहरा गांव में आशीष पांडे के साथ उसकी शादी हुई थी. सोनी देवी के ससुरालवालों ने शुक्रवार की शाम नवाबाजार थाना में सन्हा दर्ज कराया था, जिसमें कहा गया कि सोनी देवी गुरुवार की रात को अपने दो बच्चों पांच वर्षीय बेटी समृद्धि और तीन वर्षीय बेटे संदर्स कुमार को अपने साथ लेकर घर से भाग गयी है. इसके बाद से ही पुलिस सोनी देवी और उसके दोनों बच्चों की तलाश में जुटी हुई थी.

पुलिस के मुताबिक, सोनी देवी के ससुरालवालों की ही निशानदेही पर घर के पास स्थित कुएं से दोनों बच्चों के शव बरामद किये गये. इस मामले में नावाबाजार थाना पुलिस ने सोनी देवी के पति आशीष पांडेय, ससुर ब्रजकिशोर पांडेय और जेठ श्रीकांत पांडेय (सीआरसी) सहित पांच को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया. बाद में पांचों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.

इसे भी पढ़ें : मेयर-आयुक्त की लड़ाई, घट गयी नगर निगम की कमाई

adv

मायके वालों ने ससुरालवालों पर लगाया हत्या का आरोप

सोनी देवी के मायके वालों ने आरोप लगाया है कि सोनी देवी के पति समेत ससुरालवाले उसे प्रताड़ित करते थे. आरोप लगाया है कि सोनी देवी और उसके दोनों बच्चों की उसके पति, ससुर और जेठ ने ही हत्या कर उनके शव कुएं में फेंक दिये. सोनी के मायके वालों ने नावाबाजार थाना पुलिस से इंसाफ की गुहार लगायी है.

एसपी ने लिया घटनास्थल का जायजा

शनिवार को जिले के पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार ने रजहरा गांव स्थित घटनास्थल का जायजा लिया. ग्रामीणों से इस सिलसिले में बात की. साथ ही घटना की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों को उचित दिशा निर्देश दिया. एसपी ने कहा कि मामले में दोषी किसी कीमत पर बक्शे नहीं जायेंगे. एसपी ने घटना की माॅनिटरिंग कर रहे विश्रामपुर के एसडीपीओ सुरजीत कुमार से भी गुरूवार की रात से शनिवार की दोपहर तक हुए घटनाक्रम की जानकारी ली.

पांच आरोपी न्यायिक हिरासत में भेजे गये : एसडीपीओ

विश्रामपुर के एसडीपीओ सुरजीत कुमार ने बताया कि मामले में महिला के पति सहित पांच आरोपियों को अबतक न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. पुलिस मामले की दो एंगल से जांच कर रही है. पहला, महिला ने बच्चों को कुएं में डालकर खुद दूसरे कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली होगी.

दूसरा एंगल यह कि महिला और उसके दोनों बच्चों की हत्या करके उनके बच्चों के शवों को एक कुएं में और महिला के शव को पास में ही स्थित दूसरे कुएं में फेंक दिया गया होगा. तीनों शवों को पोस्टमॉर्टम के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के लिए डाक्टर से संपर्क किया गया है.

इसे भी पढ़ें : रांची में बेखौफ मिलावटखोर, दो सालों में कोई नहीं हुआ दंडित

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button